MP: बंधुआ मजदूरी करने से किया इनकार तो काट दी नाक

भोपाल(18 अगस्त): मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक महिला की नाक काटे जाने के मामले में मध्य प्रदेश महिला आयोग ने सख्त कार्रवाई करने के बात कही है। आयोग की अध्यक्ष लता वानखेड़े ने इसे गंभीर मामला बताया। 

- उन्होंने कहा, 'मामला गंभीर है, महिला को जबर्दस्ती बंधुआ मजदूर बनाने के लिए ले जाया जा रहा था। आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।'

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित महिला दलित है। बताया जा रहा है कि उसने बंधुआ मजदूरी करने से इनकार कर दिया था। इससे गुस्साए ऊंची जाति के आरोपियों ने उसकी नाक काट दी और बुरी तरह मार-पिटाई की। दोनों आरोपी बाप-बेटे बताए जा रहे हैं। 

- पुलिस ने बताया कि सोमवार को आरोपियों ने घर में मजदूरी काम कराने के लिए पीड़ित महिला और उसके पति को वहां आने को कहा। लेकिन दोनों ने इससे इनकार कर दिया। आरोप है कि इसी बात से दोनों आरोपियों को गुस्सा आ गया।

- इसके बाद गुस्साए आरोपियों ने दलित दंपती से गाली-गलौज की और डंडे से पिटाई कर दी। इसके बाद जब पीड़िता अपने पति को अस्पताल ले जा रही थी, उसी समय एक आरोपी ने उसकी नाक काट दी। मामला तब सामने आया जब पीड़िता ने राज्य के महिला आयोग की अध्यक्ष के सामने अपनी आपबीती सुनाई जिसके बाद आयोग की तरफ से कार्रवाई की बात कही गई है। पुलिस ने आईपीसी की धारा 323, 324 और एससी-एसटी ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।