अखलाक के परिवार की गिरफ्तारी पर HC ने लगाई रोक, सिर्फ भाई को राहत नहीं

नई दिल्ली (26 अगस्त): दादरी कांड मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मृत मोहम्मद अखलाक के परिवार के 6 सदस्यों को गौहत्या के आरोप में गिरफ्तारी से राहत दे दी है। अखलाक की पिछले साल बीफ खाने के संदिग्ध आरोप में उत्तर प्रदेश के दादरी में भीड़ ने हत्या कर दी थी।

हालांकि, कोर्ट ने अखलाक के भाई जान मोहम्मद को राहत नहीं दी है। वह मामले में मुख्य आरोपी है। उत्तर प्रदेश में गौहत्या प्रतिबंधित है। इसके लिए दो साल तक का कारावास भी हो सकता है। 

पिछले साल परिवार के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज की गई थी। सरकारी फॉरेंसिक जांच के बाद ऐसा सामने आया था कि अखलाख के घर के फ्रिज से जो मांस बरामद हुआ, वह बीफ था। यह रिपोर्ट पहले की रिपोर्ट की उल्टी थी, जिसमें कहा गया कि ये मटन था।