साइरस मिस्त्री का टाटा की सभी कंपनियों से इस्तीफा, कही- ये बड़ी बातें

नई दिल्ली ( 19 दिसंबर ): टाटा ग्रपु के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री ने टाटा ग्रुप की सभी 6 कंपनियों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि वह इस लड़ाई को बड़े स्तर ले जाएंगे। अपने इस्तीफे के साथ लिखे पत्र में मिस्त्री ने कहा, 'मैं सोचता हूं कि यह ऐसा समय है, जब हमें टाटा समूह के हित के लिए और मजबूती के साथ खड़ा होना होगा। मेरे निर्वासन के बाद टाटाज की ओर से कुछ भी ठोस नहीं होने वाला है। मैं जनरल मीटिंग्स से खुद को हटाता हूं। मैं इस लड़ाई को बड़े प्लैटफॉर्म पर ले जाऊंगा।'

मिस्त्री ने कहा कि मैं सिस्टम में सुधार करना चाहता था। हो सकता है यही मेरे निष्कासन की वजह बनी हो।

आईएचसीएल की 2015-16 की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी में मिस्त्री के 1,28,625 शेयर हैं। टाटा स्टील में टाटा संस की 29.75 पर्सेंट की हिस्सेदारी है। वहीं, सभी प्रमोटर्स और प्रमोटर ग्रुप्स की हिस्सेदारी 31.35 पर्सेंट हैं। नॉन प्रमोटर शेयरहोल्डर एलआईसी के पास कंपनी की 13.62 पर्सेंट की हिस्सेदारी है।

टाटा मोटर्स की बात करें तो इसमें टाटा संस की हिस्सेदारी 26.51 फीसदी है, जबकि सभी प्रमोटर्स और प्रमोटर्स ग्रुप्स की हिस्सेदारी करीब 33 पर्सेंट है। एलआईसी का शेयर 5.11 पर्सेंट है। निजी तौर पर मिस्त्री के इस कंपनी में 14,500 शेयर हैं। दूसरी तरफ टाटा केमिकल्स में टाटा संस का स्टेक 19.35 पर्सेंट है और सभी प्रमोटर्स एवं प्रमोटर्स ग्रुप की हिस्सेदारी 30.80 पर्सेंट हिस्सेदारी है। एलआईसी का इसमें 3.33 पर्सेंट हिस्सा है। मिस्त्री के इस कंपनी में 16,000 शेयर हैं।