सायरस मिस्त्री का टाटा बोर्ड को ईमेल-चेयरमैन की पोस्ट से इस तरह से हटाए जाने से शॉक्ड हूं

मुंबई(26 अक्टूबर): टाटा ग्रुप के चेयरमैन पोस्ट से हटाए जाने के बाद पहली बार साइरस मिस्त्री ने इस मामले पर बयान दिया है। उन्होंने टाटा बोर्ड को एक ई-मेल लिखा है। कहा- "इस तरह से पद से हटाए जाने से शॉक्ड हूं।" 

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मिस्त्री ने लिखा है, ''इस फैसले से वे शॉक्ड हैं। उन्हें अपनी बात रखने का मौका तक नहीं दिया गया।''

- ''बोर्ड ने अपनी साख के मुताबिक काम नहीं किया।''

- जानकारी के मुताबिक, बोर्ड मीटिंग के दौरान भी खुद को हटाए जाने को लेकर मिस्त्री ने कहा था कि यह गैरकानूनी तरीका है।

- इसके पीछे कोई कारण नहीं बताया गया था। लेकिन माना गया कि सिर्फ मुनाफे वाली कंपनियों पर ही फोकस करने और टाटा की कंपनियों के कई कानूनी मामलों में फंसने के चलते बोर्ड मिस्त्री से नाखुश है।

- बोर्ड ने मिस्त्री की जगह 78 साल के रतन टाटा को चार महीने के लिए इंटरिम चेयरमैन बनाया है।

- टाटा ग्रुप के 148 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि किसी चेयरमैन को बर्खास्त किया गया।