CWC 2109: भारत-पाक मैच पर छाये संकट के बादल...पढ़ें यह है बड़ी वजह !

CWC2019 India-Pak Match

Image Credit: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 जून): वर्ल्ड कप 2019 के मैनचेस्टर में होने वाले भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबला में बारिश विलेन बन सकती है। मौसम विभाग से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस मैच पर मौसम की टेढ़ी नजर है। बारिश के कारण इंग्लैंड और वेल्स में हो रहे इस विश्व कप में चार मुकाबले रद्द हो चुके हैं। तीन तो ऐसे रहे जिनमें एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी। अब भारत-पाक के मैच में भी बारिश की आशंका ने क्रिकेट प्रेमियों के जहन में कई सवाल खड़े कर दिए हैं।   मैनचेस्टर से मौसम की जो खबर आ रही है उससे भारत-पाक मैच का मजा भी किरकिरा होने की आशंका जताई जा रही है। मैनचेस्टर में जहां भारत और पाकिस्तान का मुकाबला होना है, वहां रुक-रुककर बारिश हो रही है। उम्मीद जताई जा रही है कि बारिश रुक जाएगी लेकिन क्या मैदान को आज के मुकाबले के लिए तैयार किया जा सकेगा, यह बड़ा सवाल है।  एक्यूवेदर वेबसाइट के मुताबिक,आज दोपहर को भारतीय समय के अनुसार दोपहर 2:30 से 3:30 के बीच बजे तक बारिश की आशंका है।

इसके बाद भी सारा दिन बादल छाए रहेंगे तो क्या ऐसे में मैदान सूख पाएगा यह देखना होगा। भारतीय समय के अनुसार शाम 7:30 के बीच एक बार और बारिश आ सकती है। बारिश के कारण लगातार मैच रद्द होने पर आईसीसी की बहुत आलोचना हो रही है। इस टूर्नमेंट में बारिश के दौरान सिर्फ पिच और उसके आसपास के इलाके को ही कवर किया जा रहा है। पूरे मैदान को नहीं ढका जा रहा है। ऐसे में बारिश रुकने के बाद भी मैदान को खेल के लिए तैयार करने में काफी वक्त लगता है।भारत और न्यू जीलैंड के बीच वर्ल्ड कप मैच गुरुवार को बारिश और खराब मौसम के कारण रद्द हुआ। इस मैच में पहले टॉस में देरी हुई और काफी इंतजार के बाद बिना टॉस के ही मैच अधिकारियों ने इसे रद्द करने का फैसला किया। नॉटिंगम के ट्रेंट ब्रिज में भारतीय फैंस की तादाद कम नहीं थी, मैच भले हीबारिश के कारण रद्द हो गया लेकिन क्रिकेट प्रेमियों का जोश कम नहीं हुआ। बड़ी संख्या में क्रिकेट फैंस स्टेडियम में मौजूद रहे।इसे लेकर क्रिकेट की प्रशासक समिति के इंतजामों पर सवाल उठाए जा रहे हैं। सौरभ गांगुली जैसे पूर्व कप्तान कह चुके हैं कि ईडन गार्डंस में पूरा मैदान कवर कर मैच जल्दी शुरू किया जाता है। संयोग की बात यह है कि इसके लिए उपकरण इंग्लैंड से ही मंगवाए गए हैं। नॉटिंगम के ट्रेंट ब्रिज में भारत-न्यू जीलैंड मैच रद्द होने के बाद कवर सिस्टम पर भी सवाल उठे थे। ऐसे में मैनचेस्टर में होने वाले मुकाबले से पहले भी मैदान और पिच पर काम करने वाले कर्मियों की भी बड़ी जिम्मेदारी रहेगी। हालांकि इंग्लैंड का ड्रेनेज सिस्टम काफी दुरुस्त माना जाता है लेकिन मैदान पूरी तरह ठीक होने के लिए धूप का निकलना भी जरूरी रहेगा।Images Courtesy:Google