क्यूबा में खत्म हुआ 6 दशक लंबा कास्त्रो युग, कनेल बने नए राष्ट्रपति

हवाना (20 अप्रैल): क्यूबा में 6 दशक पूरान कास्त्रो राज खत्म हो गया है। मिगेल डियाज कनेल क्यूबा के नए राष्ट्रपति बन गए हैं। कास्त्रो ने उपराष्ट्रपति कनेल को अपना पद सौंपा। 57 वर्षीय कनेल राष्ट्रपति पद के लिए एकमात्र उम्मीदवार थे। क्यूबा की सरकारी न्यूज वेबसाइट क्यूबाडिबेट के अनुसार, कनेल को नेशनल असेंबली में 604 में से 603 वोट मिले। वह पांच साल तक के लिए राष्ट्रपति पद पर बने रहेंगे। 

कनेल कम्युनिस्ट पार्टी के सर्वोच्च नेताओं में से एक है। वह 2013 में पहली बार देश के उपराष्ट्रपति बने थे। 1959 की क्रांति के बाद वह देश के पहले ऐसे नेता हैं जो कास्त्रो परिवार से न होने के बावजूद राष्ट्रपति बने हैं।

शीत युद्ध में अहम भूमिका निभाने वाले फिदेल कास्त्रो और उनके बाद छोटे भाई राउल कास्त्रो ने देश की सत्ता लंबे समय से संभाल रहे थे। 86 साल के हो चुके राउल 2006 से देश के राष्ट्रपति थे। बड़े भाई फिदेल की बीमारी की वजह से उन्होंने यह पद संभाला था। हालांकि, राउल 2021 में कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन के होने तक पार्टी के अध्यक्ष बने रहेंगे।