CRPF ने लिया नक्सली हमले का बदला, 10 नक्सली मारे

नई दिल्ली (27 अप्रैल): सीआरपीएफ ने नक्सलियों से सुकमा हमले का बदला ले लिया। सीआरपीएफ ने सुकमा में 10 नक्सलियों को ढेर कर दिया जबकि जवानों की फायरिंग में 5 नक्सली घायल बताए जा रहे हैं।


25 जवानों की शहादत के बाद नक्सलियों की कमर तोड़ने की मांग हो रही है। कार्रवाई को लेकर मंथन भी जारी है। सुकमा में सीआरपीएफ जवानों की शहादत को लेकर देश गुस्से में है। शहीदों के परिवार से लेकर आम लोग तक नक्सलियों को नेस्तनाबूद करने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर सरकार के साथ सीआरपीएफ की तरफ से भी एक्शन जारी है। इस बीच सुकमा के शहीद जवानों का बदला लेना भी शुरू हो चुका है।


सुकमा में 10 नक्सलियों को मार गिराया गया है। इस कार्रवाई में 5 नक्सली घायल भी हुए हैं, जिनकी हालत गंभीर बताई गई है। 24 अप्रैल को सुकमा में एक बार फिर नक्सलियों ने खूनी तांडव मचाया। नक्सलियों के घात लगाकर किए गए हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हो गए। नक्सलियों की इस कायराना हरकत से पूरा देश उबल पड़ा। लाल आतंक को करारा जवाब देने की मांग होने लगी। बार-बार होते नक्सली हमले को लेकर सरकार को भी कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की जाने लगी।इसी का नतीजा है कि अब नक्सलियों पर कहर बरपाना शुरू भी कर दिया गया है।


नक्सलियों की कमर तोड़ने के लिए डीजी नक्सल, स्पेशल सेल, सीआरपीएफ और केंद्रीय खुफिया एजेंसी जानकारी जुटाने में जुटी हैं।

- जंगल में नक्सलियों के ठिकानों का पता लगाया जा रहा है।

- हमले से पहले की जानकारी जुटाने के लिए लेटेस्ट टेक्नॉलोजी का सहारा लिया जा रहा है।

- आंध्र प्रदेश, उड़ीसा और झारखंड के नक्सलियों की ब्रिगेड पर रिपोर्ट मंगाई गई है।

- खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक हमले का प्लान आंध्र प्रदेश के कैडर ने तैयार किया था।

- जानकारी के मुताबिक हमले की प्लानिंग 15 दिन पहले की गई थी।


सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय एजेंसियों और एयर सुरक्षा बलों की मीटिंग के बाद CRPF की रणनीति में बदलाव किया गया है। अब नक्सलियों से गोरिल्ला फाइट की तैयारी हो रही है।