Noida News: पत्नी से परेशान इंस्पेक्टर ने व्हाट्सएप पर पोस्ट किया सुसाइड नोट, ससुरालियों पर भी उत्पीड़न का आरोप

खाकी से अपराधी ही नहीं बल्कि आम लोग भी खौफ खाते हैं, लेकिन खाकी का एक इंस्पेक्टर ही खौफ में रहने लगे और आत्महत्या तक का प्रयास करे तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसकी पीड़ा पहाड़ सी ही होगी। उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक इंस्पेटर अपनी पत्नी से इतना परेशान हो गए कि उन्होंने अपने व्हाट्सएप के स्टेटस पर अपना सुसाइड नोट लगा दिया।

Noida News: पत्नी से परेशान इंस्पेक्टर ने व्हाट्सएप पर पोस्ट किया सुसाइड नोट, ससुरालियों पर भी उत्पीड़न का आरोप
x

ग्रेटर नोएडाः खाकी से अपराधी ही नहीं बल्कि आम लोग भी खौफ खाते हैं, लेकिन खाकी का एक इंस्पेक्टर ही खौफ में रहने लगे और आत्महत्या तक का प्रयास करे तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसकी पीड़ा पहाड़ सी ही होगी। उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक इंस्पेटर अपनी पत्नी से इतना परेशान हो गए कि उन्होंने अपने व्हाट्सएप के स्टेटस पर अपना सुसाइड नोट लगा दिया। स्टेटस को देख एक रिश्तेदार ने पुलिस को सूचना दी। अधिकारी अब इंस्पेक्टर की काउंसलिंग कर रहे हैं।


यह मामला उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में 21 जून की शाम का है। ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 थाने में तैनात एक इंस्पेक्टर ने अपनी पत्नी से परेशान होकर व्हाट्सएप स्टेटस पर अपना सुसाइड नोट लगा डाला। तभी उनके एक रिश्तेदार ने उस नोट को देख लिया। तत्काल मामले की जानकारी ग्रेटर नोएडा पुलिस को दी। पुलिस ने इंस्पेक्टर के फोन को सर्विलांस पर लेकर उनका पता लगाया। 





और पढ़िए - MP: पंचायत और निकाय चुनवा में मतदाताओं को लुभाने का प्रयास शुरू, वोटर्स को बांटने के लिए रखी गई लाखों की शराब जब्त





बीटा-2 थाना प्रभारी अनिल कुमार ने पीड़ित इंस्पेक्टर की तैनाती ग्रेटर नोएडा के आईटी सेल में है। वह अपने परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा के डेल्टा-3 में रहते हैं। गृहक्लेश से परेशान होकर उन्होंने 21 जून की शाम को एक सुसाइड नोट लिखा था। इंस्पेक्टर इस समय काफी परेशान हैं।


बेटी को जायदाद में हक दिया तो शुरू हुआ विवाद

इंस्पेक्टर ने अपने सुसाइड नोट में पत्नी और उनके मायके वालों का जिक्र किया। आरोप लगाया कि दोनों मिलकर उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं। सुसाइड नोट की शुरुआत में पत्नी के लिए लिखा कि 'तुमको मकान, जमीन और पैसा मुबारक हो'। उन्होंने अपनी आत्महत्या की वजह भी ससुराल वालों को बताया था। 


बीटा-2 थाना प्रभारी ने बताया कि उन्होंने अपनी सारी संपत्ति का मालिकाना हक अपनी बेटियों को देने की बात भी लिखी थी। लिखा था कि उनका अंतिम संस्कार उनकी बेटियां करें। पत्नी को उनके शव से हाथ न लगाने दिया जाए। हालांकि पुलिस ने इंस्पेक्टर कि जान बचा ली। पुलिस सुसाइड नोट की जांच कर रही है। 







और पढ़िए - क्राइम से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

.






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story