MP: नकली जज बनकर लाखों की ठगी, डकैती के आरोपी की रिहाई के नाम पर लिए पैसे

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में नकली जज बनकर डकैती के आरोपी को छुड़वाने के नाम पर 2 लाख 90 हजार की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है।

MP: नकली जज बनकर लाखों की ठगी, डकैती के आरोपी की रिहाई के नाम पर लिए पैसे
x

हेमंत शर्मा, इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में नकली जज बनकर डकैती के आरोपी को छुड़वाने के नाम पर 2 लाख 90 हजार की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। इंदौर क्राइम ब्रांच ने शिकायत के आधार पर जांच शुरू कर दी है। दरअसल, पूरा मामला जूनी इंदौर थाना क्षेत्र में रहने वाले हरबंस सिंह का है। 


बता दें कि हरबंस सिंह ने इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस को शिकायत की है कि उसके साथ नकली जज बन कर राजीव कुमार लाहोटी ने दो लाख 90 हजार की धोखाधड़ी की है। फरियादी हरबंस सिंह की मुलाकात राजू लाहोटी से 2015 में हुई थी। इसके बाद आरोपी का फरियादी के घर लगातार आना जाना लगा रहा है। 






और पढ़िए - MP: नकली जज बनकर लाखों की ठगी, डकैती के आरोपी की रिहाई के नाम पर लिए पैसे





अच्छी मित्रता होने के नाते आरोपी ने फरियादी से किसी भी प्रकार के केस को लेकर निपटाने की बात कही थी, जिसके बाद फरियादी हरबंस सिंह के उज्जैन में रहने वाले रिश्तेदार का डकैती का मामला देवास कोर्ट में चल रहा था, जिसे खत्म करने के एवज में नकली जज राजीव कुमार लाहोटी ने दो लाख 90 हजार रुपए की मांग की थी।


फरियादी के द्वारा पैसे देने के बाद आरोपी फरार हो गया। इसके बाद फरियादी ने लंबे समय तक राजीव कुमार लाहोटी को तलाशा लेकिन वह नहीं मिला। इसके बाद पूरे मामले की शिकायत इंदौर के जूनी इंदौर थाने पर की थी। थाने पर सुनवाई ना होने के बाद फरियादी ने ही इंदौर क्राइम ब्रांच में पूरे मामले की शिकायत की है। डीसीपी निमेष अग्रवाल ने पूरे मामले में टीम का गठन कर जांच के आदेश दे दिए हैं।







और पढ़िए - क्राइम से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

.






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story