CG: कम समय में बड़ा ठेकेदार बनना चाहता था आरोपी, बनाए लाखों के फर्जी प्रमाण पत्र, अब खा रहा है जेल की हवा

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र बनाकर कई विभागों में टेंडर लेने वाले ठेकेदार की गिरफ्तारी हो गई है।

CG: कम समय में बड़ा ठेकेदार बनना चाहता था आरोपी,  बनाए लाखों के फर्जी प्रमाण पत्र, अब खा रहा है जेल की हवा
x

कोंडागांव: छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र बनाकर कई विभागों में टेंडर लेने वाले ठेकेदार की गिरफ्तारी हो गई है। आरोपी ने पीएचई विभाग के फर्जी सील साइन लगाकर 16 लाख 38 लाख रुपए का टेंडर सूरजपुर जिले में डाला था। 


बता दें कि पीएचई विभाग के कार्यपालन अभियंता द्वारा कुंडा गांव थाने में लिखित शिकायत कर अपराध दर्ज करवाया था। OFA कंसल्टेंसी सर्विस रायपुर के डायरेक्टर जयप्रकाश नारायण सील एवं अन्य पीएचई विभाग का फर्जी सील साइन लगाकर लाखों का फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र तैयार किया था।





और पढ़िए - Assam: असम पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 1000 किलो से अधिक गांजा पकड़ा





बताया जा रहा है कि अधिकारी की शिकायत पर कोंडागांव पुलिस द्वारा धारा 420 467 468 471 के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया गया था। आरोपी को पकड़कर जब सख्ती से पूछताछ की गई तब जाकर उसने बताया कि उसे जल्द ही बड़ा ठेकेदार बनना था इसलिए लालच में आकर फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र बनाकर कार्य लिया जा रहा था।


आरोपी इतना शातिर था कि उसने न केवल प्रदेश के सूरजपुर, कोंडागांव में बल्कि बिहार, गुजरात और अन्य राज्यों के फर्जी प्रमाण पत्र बनाकर कार्य ले रहा था, जिसमें उसके साथ अन्य आरोपी भी  संलिप्त थे। फिलहाल, पुलिस ने जय नारायण सिंह को गिरफ्तार करना बताया और  बाकि आरोपियों की तलाश जारी है |







और पढ़िए - क्राइम से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

.






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story