ICC के नए नियम का पहला शिकार बना यह खिलाड़ी

 

नई दिल्ली(30 सितंबर): क्वींसलैंड के क्रिकेटर मार्नस लबसचेंज इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल के नए 'फेक फील्डिंग' नियम के पहले शिकार बने हैं। यह घटना ऑस्ट्रेलिया के घरेलू वनडे टूर्नमेंट जेएलटी कप में क्वींसलैंड बुल्स और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया XI के बीच खेले गए मुकाबले में हुआ। 

- लबसचेंज ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज परम पटेल के शॉट को रोकने के लिए छलांग लगाई। वह गेंद को रोक नहीं पाए। उन्होंने एक फेक थ्रो के जरिए बल्लेबाज को चकमा देने की कोशिश की। 

ल- बसचेंज द्वारा नियम तोड़ने की इस घटना के बाद क्वींसलैंड बुल्स को 5 रनों का जुर्माना हुआ। नए नियम लागू होने के 24 घंटे भीतर ही लबसचेंज इसका शिकार बन गए। 

- एमसीसी के नए नियम के अनुसार नियम 41.5 के अनुसार- ' बल्लेबाज द्वारा गेंद खेले जाने के बाद, 'फील्डर द्वारा जानबूझकर, शाब्दिक या क्रियात्मक रूप से, बल्लेबाज का ध्यान भटकाना या उसके लिए बाधा उत्पन्न करना नियम विरुद्ध माना जाएगा।' अंपायर फील्डिंग टीम पर पांच रन का जुर्माना लगा सकता है। देखें: