जन्मदिन विशेष: ये हैं राहुल द्रविड के करियर की 5 सबसे शानदार पारियां

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जनवरी): भारतीय क्रिकेट में एग्रेशन के नाम पर आपको सौरव गांगुली याद आ सकते हैं या शायद विराट कोहली। स्टाइल के मामले में अजहरुद्दीन का कॉलर स्टाइल याद आ जाता है। दबाव में भी ठंडे दिमाग से टीम को जीत दिलाने के लिए महेंद्र सिंह धोनी को कैप्टन कूल का टैग लोग दे ही चुके हैं पर भारतीय क्रिकेट में सादगी के साथ एक ही नाम जोड़ते आ रहे हैं। वो है राहुल द्रविड़।

आज यानी कि 11 जनवरी को भारतीय क्रिकेट टीम में 'दीवार' नाम से मशहूर पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ का जन्मदिन है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का जन्म 11 जनवरी, 1973 को मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में हुआ, बाद में उनका परिवार बैंगलोर (अब बंगलुरु) शिफ्ट हो गया था। 12 साल की उम्र से द्रविड़ ने क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। अंडर 15, अंडर 17 और अंडर 19 लेवल पर उन्होंने क्रिकेट में कर्नाटक का प्रतिनिधित्व किया। 3 अप्रैल, 1996 को राहुल ने श्रीलंका के खिलाफ सिंगापुर में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच खेला था। उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में कई धुआंधार पारी खेली। उनके इस जन्मदिन के मौके पर हम उनकी पांच सबसे बेहतरीन पारी के बारे में बताने जा रहे हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 180 रन की पारी 

11 मार्च-15 मार्च, 2001 तक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता में खेले गए टेस्ट मैच में राहुल द्रविड़ ने एक शानदार पारी खेली थी। इस टेस्ट मैच की दूसरी पारी में राहुल ने 20 चौके की मदद से 180 रन बनाये थे। 

वेस्ट इंडीज के खिलाफ 144 रन बनाये

11 अप्रैल-15 अप्रैल, 2002 के दौरान वेस्ट इंडीज के खिलाफ जॉर्जटाउन में खेले गए टेस्ट मैच में भी राहुल ने एक जबरदस्त पारी खेली। उस टेस्ट मैच में राहुल वेस्ट इंडीज के खिलाफ 144 रन बनाकर भी नाबाद रहे।

इंग्लैंड के खिलाफ 148 रन की पारी

22 अगस्त-26 अगस्त, 2002 तक भारत और इंग्लैंड के बीच चले एक टेस्ट मैच में भी राहुल ने शानदार बल्लेबाजी की थी। इस टेस्ट मैच की पहली पारी में राहुल ने 148 रन की शानदार शतकीय पारी खेली।  

पाकिस्तान के खिलाफ 270 रनों की पारी

इसके बाद रावलपिंडी में पाकिस्तान के खिलाफ 13 अप्रैल-16 अप्रैल, 2004 तक खेले गए एक टेस्ट मैच में राहुल की सबसे शानदार बल्लेबाजी देखने को मिली थी। उन्होंने 34 चौके और एक छक्के की मदद से 270 रनों की पारी खेली थी।

इंग्लैंड के खिलाफ 117 रन बनाये 

इसके बाद नॉटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ 29 जुलाई-1 अगस्त, 2011 के दौरान खेले गए एक टेस्ट मैच में भी राहुल ने अपनी जबरदस्त बल्लेबाजी दिखाई थी। इस टेस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने 117 रन बनाये थे।