सीपेक के विरोधियों से आंतकियों जैसा सलूक करेगा पाकिस्तान

नई दिल्ली (20 अगस्त): पाकिस्तान अब अपने लोगों की ही आवाज को कुचलने की योजनाएं बनाने में लग गया है। इसका हालिया उदाहरण पाकिस्तान के योजना, सुधार और विकास मंत्री अहसान इकबाल के बयान से मिलता है, जिन्होंने कहा है कि चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर का विरोध करने वालों से आंतकवाद-रोधी कानून से निपटा जाएगा।

हाल के महीनों में पीओके में भी इस योजना का विरोध बढ़ा है। इसके जवाब में पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की ओर से विरोधियों का कड़ा दमन किया जा रहा है। गिलगित बाल्टिस्तान नेशनल कांग्रेस के डायरेक्टर सेंगे हसन सेरिंग ने ट्वीट किया कि जो लोग गिलगित बाल्टिस्तान में चीन के सीपीईसी प्रॉजेक्ट का विरोध कर रहे हैं, उन पर आतंकवाद-रोधी कानून की धाराएं लगेंगी। सेरिंग ने यह जानकारी पाकिस्तान के मंत्री मंत्री  के हालिया बयान के हवाले से दी है। सेरिंग ने कहा है कि इस प्रॉजेक्ट से गिलगिट बालटिस्तान के संसाधनों का दुरुपयोग होगा और केवल पाकिस्तान को फायदा पहुंचेगा।