BJP शासित इस राज्य ने गौहत्या पर बनाया सख्त कानून, अब होगी उम्रकैद

अहमदाबाद (3 जून): वध के लिए पशुओं की खरीद-फरोख्त पर बैन और गौहत्या पर जारी घमासान के बीच गुजरात सरकार ने इसको लेकर नया कानून आज से लागू कर दिया है। गुजरात की BJP सरकार ने अपने नए कानून के तहत गौहत्या करते पकड़े जाने पर  उम्र कैद की सजा और पांच लाख रुपये का जुर्माने का प्रावधान किया है।


गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा का कहना है कि देश में गुजरात ऐसा पहला राज्य है जिसने गौहत्या को रोकने के लिए इतना सख्त कानून बनाया है। इस कानून के तहत गोवंश की हेराफेरी करने वाले और गौ मांस के साथ पकड़े जाने वाले के लिए भी इस कानून के तहत सजा हो पाएगी।


नए कानून की अहम बातें...

- गौहत्या करते पकड़े जाने वाले शख्स के खिलाफ गैर जमानती वॉरन्ट जारी होगा

- 10 साल से लेकर उम्रकैद की सजा हो सकती है

- पांच लाख तक का जुर्माना लगेगा

- गोवंश या गौ मांस की हेराफेरी में इस्तेमाल किया गया वाहन सरकार के पास जमा हो जाएगा

- शाम को सात बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक गोवंश को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है


इससे पहले गुजरात में कानून तो था, लेकिन उसमें ज्यादा से ज्यादा तीन साल की सजा और 50 हजार का जुर्माना हो सकता था। इससे पहले भी सरकार ने कानून बनाए थे, जिसमें ये तीसरी बार है कि कानून में बदलाव के लिए विधानसभा में बिल लाया गया और राज्यपाल के हस्ताक्षर के बाद 3 जून से यह कानून गुजरात में लागू किया गया है।