BREAKING NEWS: राजमहल पैलेस की सील को तत्काल खोलने के आदेश

जयपुर (6 सितंबर): राजमहल पैलेस प्रकरण में पूर्व राजपरिवार को बड़ी राहत मिली है। एडीजे कोर्ट ने जयपुर विकास प्राधिकरण को झटका देते हुए कहा है कि वह एक माह में ध्वस्त इमारत को दोबारा बनाकर दे। इसी के साथ कोर्ट ने सील को तत्काल प्रभाव से खोलने के दिए आदेश।

एडीजे कोर्ट राजमहल मामले में पूर्व राजघराने की ओर से डिक्री की पालना करवाने और राजमहल गेट का ताला खुलवाने की मांग को लेकर याचिका दायर की थी। राजमहल मामले में डिक्री की पालना और कार्रवाई के संबंध में जेडीए अधिकारियों के खिलाफ पूर्व राजपरिवार ने याचिका दायर की थी।

अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि जेडीए ने अदालत की डिक्री की गलत विवेचना करते हुए कार्रवाई की है। जेडीए ने अदालत के पूर्व में दिए गए आदेश की पालना नहीं की है। ऐसे में जेडीए को सील तत्काल खोलने के साथ ही तोड़े गए निर्माण को एक माह में रीस्टोर करवाकर कब्जा देना होगा।

यूं चला घटनाक्रम...

24 अगस्त, 2016 - जेडीए ने राजमहल में कार्रवाई की, दीया कुमारी ने अशोक परनामी से की मुलाकात

25 अगस्त - गृहमंत्री राजनाथ सिंह तक पहुंचा विवाद

31 अगस्त - एडीजे कोर्ट में सुनवाई पूरी

1 सितंबर - पूर्व राजपरिवार ने रैली निकली

2 सितंबर - दीया कुमारी भाजपा नेता सौदान सिंह से मिलीं

2 सितंबर - सीएम, परनामी की सौदान सिंह से मुलाकात

4 सितंबर - जेडीए ने राजमहल गेट की सील खोली

6 सितंबर - एडीजे कोर्ट ने जेडीए की कार्रवाई को बताया गलत