पति को आत्महत्या के लिए उकसाने वाली महिला और उसके प्रेमी को 5 साल की कैद

नई दिल्ली (18 सितंबर): हिमाचल प्रदेश में मंडी जिले की एक अदालत ने पति को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में एक महिला और उसके आशिक को पांच साल के सश्रम कारावास की  सजा सुनाई है। मंडी के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पुणे राम पहाडिय़ा ने सरिता देवी और उसके आशिक रामकृष्ण पर 10-10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। अदालत ने कहा कि जुर्माना भरने में विफल रहने पर दोषियों को एक साल के अतिरिक्त कारावास की सजा काटनी होगी।

पीडि़त की पहचान गग्नेश के तौर पर की गई है। वह 21 अक्टूबर 2009 से लापता था। इसके बाद उसके बड़े भाई ने 26 अक्तूबर को सुंदरनगर थाने में एक शिकायत दर्ज कराई थी। मृत व्यक्ति के भाई ने आरोप लगाया था कि गग्नेश की पत्नी सरिता और उसके आशिक ने हो सकता है अपराध किया हो क्योंकि उन्हें एक होटल में आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ा गया था।