शाहरुख-सलमान पर FIR की मांग करने वाली याचिका खारिज़

नई दिल्ली (6 जून) :  दिल्ली की एक अदालत ने बॉलिवुड के सुपरस्टार्स शाहरुख खान और सलमान खान के खिलाफ आपराधिक शिकायत को खारिज कर दिया है। इस शिकायत में मांग की गई थी कि शाहरुख और सलमान के खिलाफ कथित तौर पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की जाए। ये शिकायत 'बिग बॉस सीजन 9'  के लिए प्रोमो की शूटिंग के दौरान दोनों स्टार्स के जूते पहने हुए होने के ख़िलाफ की गई थी जबकि पृष्ठभूमि में मंदिर का सेट नज़र आ रहा था।   

अतिरिक्त चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट वंदना जैन ने हालांकि शिकायतकर्ता की उस दलील को स्वीकार कर लिया कि जिसमें उसे अपनी शिकायत के समर्थन में समन से पहले के सबूत रिकार्ड कराने की अनुमति देने की मांग की गई थी। कोर्ट ने इस मामले में 1 जून को शिकायतकर्ता के तर्क सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रखा था। शिकायतकर्ता ने दिल्ली पुलिस की ओर से दाखिल एटीआर (एक्शन टेकन रिपोर्ट) पर सवाल उठाया था जिसमें दोनों मेगास्टार्स को क्लीन चिट दी गई थी।    

एटीआर में कहा गया था कि शाहरुख और सलमान एक अस्थायी मंदिर जो कि स्टूडियो का सेट था, वहां शूटिंग कर रहे थे और उनकी किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत करने जैसी कोई मंशा नहीं थी।

ये रिपोर्ट वकील गौरव गुलाटी की याचिका पर कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस ने दाखिल की थी। शिकायतकर्ता ने मांग की थी कि दोनों अभिनेताओं और बिग बॉस सीज़न 9 के निर्माता-निर्देश और कलर्स चैनल के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 ए, 298 और 34 के तहत एफआईआर दर्ज की जाए।