बांबे हाईकोर्ट के बाद अब इस अदालत ने बांधे उड़ता पंजाब के पंख, होगी स्पेशल स्क्रीनिंग

नई दिल्ली (14 जून): मुंबई हाईकोर्ट से हरी झण्डी मिलने के तुरंत बाद पंजाब हाईकोर्ट ने उड़ता पंजाब पर फिर सवालिया निशान लगा दिये हैं। पंजाब हाईकोर्ट ने भारत सरकार और केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड को इस बारे में नोटिस जारी किया है और पूछा कि उड़ता पंजाब के प्रदर्शन पर रोक क्यों नहीं लगा देनी चाहिए। पंजाब हाईकोर्ट ने फिल्म की स्पेशल पैनल से स्क्रीनिंग के आदेश भी दिये हैं। यह पैनल गुरुवार तक रिपोर्ट पेश करने को कहा है। पंजाब हाईकोर्ट की एकल पीठ के जज एम जेयापॉल ने मुंबई हाईकोर्ट के वकील सुजॉय एन कांटावाला को एमिकस क्वेरी नियुक्त करते हुए केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड और फैंटम मूवीजड प्राइवेट लिमिटेड को निर्देश दिये है कि वो आज(मंगलवार को)फिल्म स्पेशल स्क्रीनिंग के लिए उपलब्ध करवायें।

इससे पहले कल यानी सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट से उड़ता पंजाब को रिलीज करने की इजाजत दे दी थी।वो भी सिर्फ एक कट और तीन डिस्क्लेमर के साथ। कोर्ट ने सेंसर बोर्ड को ताकीद की थी कि अगले 48 घंटे में फिल्म उड़ता पंजाब को 'ए' सर्टिफिकेट दे दिया जाये। कोर्ट का आदेश सुनते ही प्रोड्यूसर्स के चेहरे खिल गये थे । लेकिन, उड़ता पंजाब का ये रास्ता इतना आसान नहीं रहा। मुंबई हाईकोर्ट के आदेश के तुरंत बाद पंजाब हाईकोर्ट ने अलग कार्रवाही के आदेश दे दिये।