पाकिस्तान के अखबारों में छपेंगे भगौड़े मुशर्रफ के विज्ञापन

नई दिल्ली (12मई): राजद्रोह के मामले की सुनवायी कर रही पाकिस्तान की एक विशेष अदालत ने पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल मुशर्रफ को भगौड़ा घोषित कर दिया है। जस्टिस मज़हर आलम ख़ान मीनाखेल, जस्टिस सयैदा ताहिरा सफदर और जस्टिस मोहम्मद यावर अली वाली तीन जजों की विशेष पीठ ने कहा कि बार-बार समन भेजे जाने के बाद भी मुशर्रफ अदालत के सामने पेश नहीं हुए हैं। इसलिए अदालत उन्हें भगौड़ा घोषित करती है और फेडरल इंवेस्टिगेशन एजेंसी के को हुक्म देती है कि मुशर्रफ को तीस दिन के भीतर कैद कर अदालत के सामने पेश किया जाये।

अदालत ने अभियोजन अधिकारी को निर्देश दिये कि भगौड़े मुशर्ऱफ के बारे में उर्दू और इंग्लिश के अखबारों में इश्तहार छापे जायें। उनके पोस्टर बनाकर अदालत परिसर और मुशर्रफ के घर के आस-पास चिपकाये जायें। अदालत ने अभियोजन अधिकारियों से मुशर्रफ की चल-अचल संपत्तियों की जानकारी अगली सुनवायी से पहले कोर्ट में दाखिल करने का हुक्म भी जारी किया है। पीठ अध्यक्ष जस्टिस मज़हर आलम ने भी कहा है कि अगली तारीख पर मुशर्रफ के वकील हरहाल में अदालत में मौजूद रहेंगे।