होटल में महिलाओं को बुलाकर दोनों पति-पत्नी ऐसे ऐठते थे पैसे

नई दिल्ली (16 मई): एक बार फिर ठनी का ऐसा महाघोटाला सामने आया है, जिसमें एक दंपत्ति ने सारी पटकथा लिखी। डायमंड किटी पार्टी के नाम पर मध्यप्रदेश की 600 महिलाओं से 2 करोड़ की ठगी करने वाले दंपत्ति को उज्जैन पुलिस ने पंजाब के मोहाली से गिरफ्तार किया है।


इंदौर में पदस्थ थाना प्रभारी दिलीप चौधरी की पत्नी मनीषा भी इनकी ठगी की शिकार हुई थीं। उन्होंने बताया कि मेरी दोस्त रैमी कक्कड़ ने चंडीगढ़ में चलने वाली डायमंड किटी के बारे में बताया था। इसे आदित्य डायमंड्स चंडीगढ़ के शिल्पी जिंदल व उसके पति ऋषि चौहान चलाते थे। सितंबर 2015 में रैमी के साथ शिल्पी और उसका पति उज्जैन आए थे। उन्होंने मुझे यहां किटी का इलीट मेंबर बना दिया। मेंबर बनने वाली महिलाओं को गोल्ड डायमंड के वेलकम गिफ्ट दिए जाते। इसके बाद होटल सुराना पैलेस और चावला में किटी पार्टियों का दौर शुरू हुआ।


ग्रुप में 130 महिलाएं जुड़ गईं। इंदौर में करीब 250 और देवास में 200 मेंबर थीं। पार्टी में रैमी, शिल्पी और ऋषि चौहान आते थे। 20 माह की किटी में प्रत्येक से दो हजार रुपए जमा करवाए जाते थे। 20 माह बाद मेंबर को उसकी पसंद की गोल्ड या डायमंड ज्वेलरी देने का वादा किया गया था। किटी में जमा मेंबर के रुपए वे ले जाते थे।


27 जुलाई 2016 को इंदौर की होटल में किटी पार्टी आयोजित करना थी, लेकिन उस दिन वे नहीं आए। महिलाओं ने फोन लगाया तो दाेनों का फोन बंद था। इसके बाद सुकृति अरोरा, रश्मि, महेंद्र, रचना भारील, नीता रॉय और पूनम जैन ने ऋषि और शिल्पी के खिलाफ उज्जैन के माधवनगर थाने पर शिकायत दर्ज कराई थी।