अगस्ता डील में किसे मिला पैसा, पता लगाकर रहेंगे: पर्रिकर

नई दिल्ली (4 मई): रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने अगस्ता वेस्टलैंड पर राज्यसभा में कहा कि हेलिकॉप्टर डील में भ्रष्टाचार हुआ है। इटली की कोर्ट ने भी इस डील में भ्रष्टाचार की बात को माना है। तत्कालीन रक्षामंत्री एके एंटनी ने भी भ्रष्टाचार की बात मानी थी। ऐसे में सवाल है कि आखिर वो पैसा किसे मिला।

मंत्री ने कहा कि पूरा देश जानना चाहता है कि इस भ्रष्टाचार में कौन शामिल था, किसने इसका समर्थन किया और इस पूरे मामले से किसे फायदा हुआ। हम इसे यूं ही नहीं जाने दे सकते। उन्होंने सवाल उठाया कि हेलिकॉप्टर सौदे के दौरान सिर्फ एक ही वेंडर क्यों था? इसका साफ संकेत है कि इसमें भ्रष्टाचार हुआ है।

रक्षामंत्री के लिखित बयान पढ़ने पर भी कांग्रेस ने सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि मंत्री सदन में लिखित बयान नहीं पढ़ सकते। ऐसा कर मंत्री ने सदन का अपमान किया है। इस पर उपसभापति ने यह कहकर उन्हें शांत किया कि लिखित बयान पढ़ा जा सकता है। कांग्रेस नेता आनंद ने नियमों का हवाला देते हुए पर्रिकर के बयान पर ऐतराज जताया। वहीं जेडीयू नेता शरद यादव ने मंत्री के बयान को लंबा बताते हुए ऐतराज जताया।