स्वरूपानंद सरस्वती का विवादित बयान- साई पर चढ़ने वाला 'काला धन'

देहरादून (18 अप्रैल): द्वारकापीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने एक बार फिर साई बाबा पर निशाना साधा है। स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा है कि साई को डोनेशन मिल रहा है उसमें ज्यादातर काला धन है। स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने शिरडी संस्थान की कमाई पर ऊंगली उठायी है। उन्होंने कहा की जब महाराष्ट्र में अकाल पड़ रहा है तो इतना पैसा कौन चढ़ा गया।  

स्वरूपानंद ने कहा कि ये पैसा विदेशों से आया काला धन है, जो हिंदुओं को भ्रमित करने के लिए प्रयोग किया जाएगा। साईं टस्ट्र को नवरात्रों पर पौने तीन करोड़ रुपए मिले हैं। उन्होंने कहा कि एक मुस्लिम ने साईं का मंदिर बना रखा है और हिंदू वहां चढ़ावा चढ़ा रहे हैं, सनातन धर्म में साईं का कोई उल्लेख नहीं है। उन्होंने कहा की यदि इतना ही वहां चमत्कार है तो वहां पानी क्यों नहीं है अकाल क्यों पड़ रहा है। यही नहीं शंकराचार्य स्वरूपानंद ने जाति के आधार पर आरक्षण देने का विरोध किया है। स्वरूपानंद ने कहा कि इस आरक्षण नीति को बदलना चाहिए।