जयपुर: सुपारी देकर कराई पिता की हत्या, खोले चौंकाने वाले राज़

इनसेट में मृतक। कपड़ा गया हत्याकांड का मुख्य सरगना।

नई दिल्ली (4 अगस्त): जयपुर के कोटपुतली में डाबला रोड में एक व्यक्ति की सरेआम गोली मारकर हत्या कर देने वाले हमलावरों से जब पुलिस ने पूछताछ की तो हत्याकांड का पूरा खुलासा हो गया। हत्याकांड के पीछे नाजायज रिश्ते और करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी का मामला था। पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य सरगना को हिरासत में ले लिया है।

जानिए इस हत्याकांड की पूरी कहानी… - 27 जुलाई को डाबला रोड पर आर मार्ट सैलून की दुकान में एक बृजमोहन यादव की सरेआम गोली मारकर हत्या की दी गई। - पुलिस की छानबीन के दौरान 31 जुलाई को हमलावर पुलिस के हत्थे चढ़ गए। - घटना में इस्तेमाल एक पिस्टल, एक देसी कट्टा और एक मोटरसाइकिल पुलिस ने बरामद कर ली। - कोर्ट ने आरोपियों को 5 दिन के रिमांड पर पुलिस के हवाले कर दिया। - इधर हमलावरों से गहन-पूछताछ में जो खुलासा हुआ वो चौंकाने वाला था। - पिता की चिता को आग देने वाला और फूट-फूट कर रोने वाला उसका बेटा लीलाराम यादव ही इस पूरे हत्याकांड का मुख्य सरगना निकला। जानिए क्यों लीलाराम ने ऐसा किया - पूछताछ में लीला राम ने बताया कि उसके पिता के पास करोड़ों की जागीर है। उसके पिता बृजमोहन का एक महिला से अफेयर चल रहा था। - ये बात लीलाराम को नागवार गुजरती थी। लीलाराम और बृजमोहन में अक्सर तनातनी होती रहती थी। - बीते दिनों मृतक बृजमोहन ने लीलाराम को ये कह दिया कि वो अपनी प्रॉपर्टी का एक इंच भी उसे नहीं देगा। - लीला को पता चला कि उसके पिता उस महिला से शादी करने वाले हैं। - महिला भी शादीशुदा और अपने पति से तलाक लेने वाली है। - ऐसे में लीला को करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी छीनती दिखाई देने लगी।

ऐसे रची साजिश

- लीला ने अपने दोस्त सुरेश नकाला के साथ मिलकर इस हत्या की साजिश रची। - सुरेश ने इसके लिए 25 लाख रुपए की मांग की। दो शूटर राकेश उर्फ रॉकी और विक्की को इस काम को अंजाम देने के लिए चुना गया। - इस रकम को जुटाने के लिए लीला ने प्लॉट बेचने की बात कही। इधर सुरेश ने दोनों शूटरों को 10-10 लाख रुपए देने की बात कही। - प्लॉट न बिकने की दशा में उनके नाम पर रजिस्ट्री करने का वादा किया। पकड़े जाने पर लीला को ही शूटरों के पक्ष में बयान देने की योजना बनाई गई। - वहीं जब पुलिस ने शूटरों से कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने सब उगल दिया।