नेपाली संविधान संशोधन का भारत यात्रा से कोई लेना-देना नहीं-प्रचण्ड

 

नई दिल्ली (15 सितंबर): नेपाल की सत्ता संभालने के बाद भारत की अपनी पहली यात्रा से पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड ने नये संविधान को सभी पक्षों के लिए स्वीकार्य बनाने की अपनी सरकार की प्रतिबद्धता जताई और कहा कि उनकी नयी दिल्ली की यात्रा का इससे कोई लेनादेना नहीं है।

आंदोलनकारी मधेसी दलों और स्थानीय समूहों के नेताओं के साथ आज प्रधानमंत्री कार्यालय में बातचीत के दौरान प्रचंड ने कहा, ''मेरी भारत यात्रा और संविधान संशोधन से जुड़े विषय का आपस में कोई लेनादेना नहीं है। प्रचंड करीब छह सप्ताह पहले प्रधानमंत्री का पद संभालने के बाद अपनी पहली विदेश यात्रा पर कल नयी दिल्ली जाएंगे। उनकी यह यात्रा चार दिन की होगी।