नेपाल में संविधान संशोधन विधेयक गिरा, फिर से मधेसी आंदोलन उग्र होने की आशंका

नई दिल्ली (22 अगस्त): नेपाल की संसद मधेसियों के मुद्दों के निवारण के मकसद से लाए गए संविधान संशोधन विधेयक का अनुमोदन करने में विफल रही क्योंकि सत्तारूढ़ गठबंधन इसे पारित कराने के लिए जरूरी दो-तिहाई बहुमत नहीं जुटा सका। इस विधेयक को पारित कराने के लिए 592 सदस्यीय सदन में 395 मतों की जरूरत थी। 

मतदान के दौरान 347 मतदाताओं ने विधेयक के पक्ष में मतदान किया, जबकि 206 सांसदों ने इसके खिलाफ मतदान किया। मतदान के समय 553 सदस्य सदन में मौजूद थे। मुख्य विपक्षी दल सीपीएन-यूएमएल ने विधेयक के विरोध में मतदान किया। इस विधेयक के गिर जाने के बाद एक बार फिर नेपाल के भीतर संघर्ष की संभावना पैदा हो गयी है।