युवा बेरोजगार है, किसान मर रहे हैं लेकिन मोदी जी कहते हैं योगा करो- राहुल गांधी

नई दिल्ली (18 मार्च): दिल्ली में आयोजित कांग्रेस के 84वें महाधिवेशन का आज आखिरी दिन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने अध्यक्षीय भाषण में बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर हमला बोला। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि युवाओं रोजगार नहीं मिल रहा है, किसान मर रहे हैं और प्रधानमंत्री कहते हैं कि योग करो। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर सीधा हमला करते हुए कहा कि मोदी जी खुद को भगवान समझते हैं। लगे हाथों राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी एक सगंठन की आवाज है जबकि कांग्रेस देश की आवाज है।   

#WATCH Live from Delhi: Congress President Rahul Gandhi addresses at the #CongressPlenarySession https://t.co/uRFSLE1S8m

— ANI (@ANI) March 18, 2018

 

राहुल गांधी की बड़ी बातें...

- कौरवों की तरह बीजेपी और आरएसएस की तरह हैं जो ताकत के लिए लड़ते हैं और कांग्रेस पांडवों की तरह है जो सच के लिए लड़ती है

- कौरवों की तरह बीजेपी सत्ता के नशे में चूर

- बीजेपी एक संगठन की आवाज है, कांग्रेस देश की आवाज है

- हमारे नेता आजादी की लड़ाई में जेल में थे

- इनके सावरकर चिट्टी लिखकर माफी की भीख मांग रहे थे

- गांधी जब जेल में थे तब सावरकर माफीनामा लिख रहे थे

- चीन हमारे देश में हर जगह है

- डोकलाम, मालदीव, श्रीलंका में चीन मौजूद है

- आप बैंक से 33 हजार करोड़ लेकर भाग जाएं और बीजेपी आपको बचाएगी

- सच कहने से हमें कोई नहीं रोक सकता

- राजनीति में हमेशा बहुत कुछ सीखने को मिलता है

- नौकरी नहीं है, किसान परेशान है तो मोदी जी कहते हैं चलो योगा करते हैं

- पूर्वोत्तर के लोगों के खाने पर सवाल करते हैं

- दलितों और आदिवासियों को डराया जा रहा है

- मैं मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारा सब जगह जाता हूं

- देश कठिनाई में है, युवा बेरोजगार हैं

- मोदी जी ने देश का विश्वास तोड़ा है

- देश के युवाओं ने जो भरोसा मोदी जी पर किया वह टूट गया है

- युवाओं में देश को बदलने की शक्ति है

- अगर भारत को बदलना है तो सबको साथ लेकर चलना होगा

- कांग्रेस में युवाओं को मौका मिलेगा

- प्रेम से तोड़ेंगे युवाओं और सीनियर नेता के बीच की दीवार

- कांग्रेस युवाओं को रोजगार दे सकती है

- कांग्रेस पार्टी, सबकी पार्टी है

- प्रश्नपत्र खरीदकर लोग परीक्षा पास कर रहे हैं

- प्रधानमंत्री मोदी खुद को भगवान समझते है।