यहां कांग्रेस के सामने कोई नहीं टिका, निर्विरोध जीती ये सीट

मुंबई (31 मई): तमाम सियासी उठापटक के बाद महाराष्ट्र की पलूस-कडेगाव विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस के विश्‍वजीत कदम ने निर्विरोध बाजी मारी है। गौरतलब है कि विधानसभा की यह सीट विश्‍वजीत के पिता पतंगराव कदम के निधन के बाद खाली थी।दरअसल यहां पर कांग्रेस इसलिेए निर्विरोध जीत गई क्योंकि यहां पर पहले बीजेपी ने कांग्रेस प्रत्याशी विश्वजीत कदम के खिलाफ संग्राम सिंह देशमुख को उतारा था, लेकिन फिर बाद में उन्होंने अपना नमांकन वापस ले लिया। जानकारी के लिए आपको बता दें कि  इस सीट पर एनसीपी और शिवसेना ने पतंगराव को श्रद्धांजलि के रूप में विश्‍वजीत कदम को समर्थन दिया था। जिसके ये बात भाजपा नेताओं को पसंद नहीं आई। इसी वजह से पूर्व मंत्री हर्षवर्धन पाटिल ने बीजेपी नेताओं से इस सीट पर प्रत्याशी खड़ा न करने की बात कही थी।राजनैतिक जानकारों की मानें तो भाजपा ने ये कदम शिवसेना के दबाव में आकर उठाया है। दरअसल, सांसद संजय राउत ने पतंगराव को श्रद्धांजलि के रूप में विश्‍वजीत कदम को समर्थन देने का ऐलान दिया था। वहीं, एनसीपी ने भी उन्हें समर्थन दिया। बता दें कि राउत ने कहा था कि पतंगराव कदम सहकारिता, समाज और शिक्षा के क्षेत्र में बड़े नेता थे। यह सब देखकर, सेना की यह इच्‍छा थी कि पलूस-कडेगाव उपचुनाव बिना किसी विरोध के हो।