देश आंतकी हमले के सदमे से गुजर रहा था और पीएम शूटिंग कर रहे थेः कांग्रेस


न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 फरवरी): जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर एकबार फिर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि. देश आंतकी हमले के सदमे से गुजर रहा था और पीएम शूटिंग कर रहे थे। सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी अपना राजधर्म भूल रहे हैं।पीएम मोदी ने शर्मनाक और अमानवीय व्यवहार किया है।  



सुरजेवाला ने कहा कि 'जब पूरा देश पुलवामा में हमारे शहीदों की शहादत के सदमे से जूझ रहा था तब पीएम मोदी जी रामनगर नैनीताल में कार्बेट नेशनल पार्क में अपने प्रचार वाली फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। पुलवामा आतंकी हमले के प्रति मोदी सरकार न तो कोई राजनीतिक जवाब दे रही, न ही अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही है। हम आपसे सवाल पूछते हैं कि ये सैंकड़ों किलोग्राम आरडीएक्स देश में कहां से आये। शहीदों और शहादत के अपमान का जो उदाहरण मोदी जी ने पेश किया वैसा कोई उदाहरण पूरी दुनिया में नहीं है।'



कांग्रेस ने प्रधानमंत्री से पूछे 5 सवाल…  


1.    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल अपनी विफलता की जिम्मेदारी क्यों नहीं स्वीकार करते हैं?


2.    पुलवामा हमले में इस्तेमाल हुआ इतना विस्फोटक, रॉकेट लॉन्चर कहां से आए, वाहन ने वहां कैसे प्रवेश किया?


3.    पुलवामा आतंकी हमले के ठीक 48 घंटे पहले जारी धमकी वाले वीडियो को नजरअंदाज क्यों किया गया?


4.    सीआरपीएफ ने अगर हवाई यात्रा की मांग की थी, तो उनकी मांग को क्यों नहीं माना गया?


5.    मोदी सरकार के 56 महीने के कार्यकाल में 488 जवान शहीद हुए हैं, नोटबंदी से आतंकी हमले क्यों बंद नहीं हुए हैं?




कांग्रेस नेता ने कहा कि 'देश को आज भी याद है कि श्रीमती इंदिरा गांधी और देश की सेना ने 1971 में पाकिस्तान को करारा जवाब दिया था। यह आज भी दोनों देशों के इतिहास के पन्नों पर दर्ज है।' पुलवामा का आतंकी हमला हमारे देश की सामूहिक चेतना और अखंडता पर हमला है। हर भारतीय रोष और आक्रोश में है। कांग्रेस पार्टी और पूरा देश सेना और सरकार के साथ है। 





बता दें कि इससे पहले रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा था कि , ''खेदपूर्ण व शर्मनाक- पाक प्रधानमंत्री इमरान खान आज भी जैश ए मोहम्मद की भाषा बोल रहे हैं.'' उन्होंने कहा, "भूलिए मत की इंदिरा गांधी व सेना ने 1971 में पाक के दो टुकड़े कर बांग्लादेश को आज़ादी दिलायी थी तथा पाक के 91000 सैनिकों ने ढाका में भारतीय सेना को आत्मसमर्पण किया था।'