BJP राममंदिर का मुद्दा सिर्फ चुनाव के समय निकालती है- राहुल

लखनऊ (29 जनवरी): यूपी में गठबंधन के बाद राहुल गांधी और अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस में 'यूपी को ये साथ पसंद है' स्लोगन लॉन्च हुआ। अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी से दुख देने वालों को जनता जवाब देगी।

राहुल और अखिलेश ने साझा प्रेस कांफ्रेंस करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। इसके अलावा राहुल ने अखिलेश के काम को बेहतर बताया।राहुल-अखिलेश की साझा कांफ्रेंस के मुख्य अंश...- उत्तर प्रदेश में पहला शब्द 'उत्तर' है। हमने गठबंधन करके देश को जवाब दिया है- राहुल गांधी- यहां पर गंगा और सरस्वती का मिलन हो रहा है- राहुल गांधी- यहां गंगा और यमुना का मिलन हो रहा है। इससे यूपी में प्रगति की सरस्वती बहेगी- राहुल गांधी- हमारी पार्टनरशिप एक जवाब है,  इस पार्टनरशिप से यूपी आगे जाएगा, विकास होगा- राहुल गांधी- मेरी और अखिलेश की पर्सनल रिलेशनशिप है, मुझे खुशी है कि कांग्रेस और एसपी में गठबंधन हुआ- राहुल गांधी- हाथ के साथ साइकिल हो, साइकिल के साथ हाथ तो सोचिए रफ्तार कितनी होगी- अखिलेश यादव- पहली बार ऐसा चुनाव हो रहा है जिसमें जनता ने मन बना लिया है किसे वोट देना है- अखिलेश यादव- राहुल जी और मैं मिलकर उत्तर प्रदेश को आगे लेकर जाएंगे- अखिलेश यादव- अखिलेश ने पीएम मोदी पर साधा निशाना। कहा, नोटबंदी से दुख देने वालों को जनता जवाब देगी- अखिलेश यादव- हम दो पहिये हैं और उम्र में भी ज्यादा फासला नहीं है। विकास का पहिया भी है और खुशहाली का भी- अखिलेश यादव- हम क्रोध की राजनीति को रोकना चाहते हैं, इसलिए गठबंधन किया है- राहुल गांधी- मैंने कहा था कि अखिलेश अच्छा लड़का है, लेकिन उसे काम नहीं करने दिया जा रहा है- राहुल गांधी- हम गुस्से की राजनीति को रोकना चाहते हैं, इससे देश का नुकसान हो रहा है- राहुल गांधी- युवा सोच आगे बढ़े इसलिए अखिलेश के साथ गठबंधन कर रहे हैं- राहुल गांधी- सर्दी, गर्मी, बरसात सब देख लिया लेकिन 'अच्छे दिन' देखने को नहीं मिले- अखिलेश यादव- उत्तर प्रदेश के डीएनए में गुस्सा नहीं बल्कि प्यार और भाईचारा है- राहुल गांधी- ये एक ऐतिहासिक गठबंधन है- राहुल गांधी- क्या सोनिया गांधी और मुलायम सिंह UP चुनाव के लिए प्रचार करेंगे तो राहुल ने कहा, मैं आपको कैंपेन की स्ट्रैटिजी नहीं बताऊंगा।- राहुल गांधी ने लोकसभा में गठबंधन के सवाल पर कुछ भी बताने से इनकार किया।- प्रियंका मेरी बहन है, वो प्रचार करेंगी या नहीं उनका अपना फैसला होगा- राहुल गांधी- हम बीजेपी को बताएंगे कि आप इस देश को बांट नहीं सकते- राहुल गांधी  - आने वाले पांच साल हम मिलकर सरकार चलाएंगे- अखिलेश यादव- हम दोनों में समानता भी है और फर्क भी। दोनों को कुछ समझौते करने होंगे- राहुल गांधी- अमेठी-रायबरेली की सीटें मुद्दा नहीं है, मुद्दा यूपी का विकास है- राहुल गांधी- मैं व्यक्तिगत तौर पर मायावती जी का सम्मान करता हूं- राहुल गांधी- मायावती की विचारधारा से हिंदुस्तान को खतरा नहीं- राहुल गांधी- देश को बीजेपी की विचारधारा से खतरा है- राहुल गांधी- मैं व्यक्तिगत तौर पर मायावती जी और कांशीराम की इज्जत करता हूं- राहुल गांधी- मोदी जी कहते हैं मैं नंबर वन हूं नंबर टू कोई है ही नहीं- राहुल गांधी- अमेठी-रायबरेली में सीटों के बंटवारे पर अखिलेश ने कहा, सब अभी बता दूंगा तो मसाला क्या बचेगा?- बीजेपी एक हिंदुस्तानी को दूसरे हिंदुस्तानी से लड़ाती है- राहुल गांधी- हम मोदी जी को समझाएंगे कि हम उत्तर प्रदेश को बंटने नहीं देंगे- राहुल गांधी- हमार गठबंधन 300 से ज्यादा सीटे जीतेगा- अखिलेश यादव- मायावती के साथ गठबंधन पर बोले अखिलेश, इस गठबंधन में मायावती कैसे हो सकती थीं। वो तो बहुत जगह लेतीं जो शायद हम न दे पाते।- हम मोदी जी को समझाएंगे कि हम उत्तर प्रदेश को बंटने नहीं देंगे- राहुल गांधी- हमार गठबंधन 300 से ज्यादा सीटे जीतेगा- अखिलेश यादव- मायावती के साथ गठबंधन पर बोले अखिलेश, इस गठबंधन में मायावती कैसे हो सकती थीं। वो तो बहुत जगह लेतीं जो शायद हम न दे पाते।- अगर मायावती गठबंधन में होतीं तो शायद मैं और राहुल उनको जरूरी जगह ना दे पाते- अखिलेश- शीला दीक्षित के साथ कन्नौज में हमारा पुराना रिश्ता है- अखिलेश- साफ नियत से राजनीति होती है, आरएसएस और बीजेपी के लोगों की नियत साफ नहीं है- राहुल गांधी- अखिलेश की नियत साफ है, ये कोई नहीं कह सकता कि अखिलेश ने यूपी को कुछ नहीं दिया- राहुल गांधी- यूपी में काम हुआ है, इसीलिए मैंने नारा दिया 'काम बोलता है'- अखिलेश- बीजेपी राममंदिर का मुद्दा सिर्फ चुनाव के समय निकालती है- राहुल गांधी- हमारा काम बोलता है, मैं अपने काम को आपके सामने रख तो रहा हूं- अखिलेश यादव