MCD चुनाव: कांग्रेस का घोषणापत्र जारी, झुग्गियों की जगह पक्के मकान का वादा

नई दिल्ली ( 18 अप्रैल ): कांग्रेस ने दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए सोमवार अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। कांग्रेन ने सत्ता में आने पर जनता पर निगम कर का कोई बोझ नहीं डालने का वादा किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने आज निगम चुनाव के लिये पार्टी का पहला घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि निगम की सत्ता में आने पर पार्टी निगम को आर्थिक रुप से मजूबत बनाने के लिए नये कर लगाये बिना 5200 करोड़ रपये का अतिरिक्त राजस्व भी अर्जित करके दिखायेगी


इतना ही नहीं कांग्रेस ने नगर निगम में अलग से शहरी गरीबी उन्मूलन विभाग स्थापित करने का भी चुनावी वादा किया है। यह विभाग मजदूरों के हितों के लिए केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा बनाई गई राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा जैसी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मजदूरों को दिलाने के लिए उनका पंजीकरण करेगा।


माकन ने कहा कि आप और भाजपा की तरह झूठे वादे करने के बजाय कांग्रेस ने निगम को आर्थिक संकट, कर्मचारियों को वेतन, बुजुर्गों विधवाओं को पेंशन और शहर को गंदगी के संकट से उबारने के लिये घोषणापत्र जारी करने से पहले ही समयबद्ध कार्ययोजना पेश कर दी है। इसके लिये वित्त, पर्यावरण, शहरी विकास और शिक्षा से जुड़े कांग्रेस के विशेषग्यों द्वारा दृष्टिपत्र जारी किये जा चुके हैं।


इस कड़ी में आज पहला घोषणापत्र जारी करने के बाद कांग्रेस मंगलवार को भवन कर सहित मूलभूत सुविधाओं से जुड़ी सहूलियतों का दूसरा घोषणा पत्र जारी करेगी जबकि 19 अप्रैल को युवाओं खासकर छात्रों के हित में निगम के कार्यों का लेखाजोखा पेश किया जायेगा और चौथे घोषणापत्र में शेष सभी समस्याओं के समाधान की समयबद्ध कार्ययोजना पेश की जायेगी।


-शहरी गरीबी उन्मूलन का विभाग बनाया जाएगा।

-5 लाख रेहड़ी पटरीवालों को जगह चिन्हित करके लाइसेंस देंगे।

-मज़दूरों को स्वास्थ्य बीमा दिया जाएगा।

-घरेलू कामगारों के लिए रजिस्ट्रेशन होंगे।

-निर्माण मज़दूरों के लिए शेड बनेंगे।

-ऑटो रिक्शा ड्राइवर को दुर्घटना बीमा।

-सफाई कर्मचारियों का वेतन बिना देरी और बकाया 6 महीने में पूरा कर देंगे।

-2 साल में अस्थायी सफाई कर्मचारियो को पक्का किया जाएगा, बीमा भी कराया जाएगा।

-हर साल 2,000 करोड़ खर्च करेंगे।

-निगम की खाली जमीन पर स्कूल और अस्पताल बनेंगे।

-5 साल में जहां झुग्गी वहीं मकान।

-पार्किंग माफिया आए निजात।

-विज्ञापन से राजस्व बढ़ाएंगे।

-म्यूनिसिपल बांड निकलेंगे।

-लाइसेंस फीस से राजस्व बढ़ाएंगे।

-इनसे 5200 करोड़ का अतिरिक्त राजस्व मिलेगा।

-जीरो लैंडफिल साइट को अचीव करें।

-ट्रीटमेंट प्लांट लगाएंगे।

-कोई एडिशनल टैक्स नहीं लगेगा।

-हाउस टैक्स कम कर सकते हैं ये हम कल बताएंगे।

-