नोटबंदी के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, कहा- कालाधन हुआ सफेद


नई दिल्ली ( 18 जनवरी ): कांग्रेस पार्टी बुधवार को पूरे देश में नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। पार्टी के कार्यकर्ता देश के अलग-अलग शहरों में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के दफ्तर का घेराव कर रहे हैं। दिल्ली में कांग्रेस कार्यकर्ता जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं जिसकी अगुवाई आनन्द शर्मा कर रहे हैं। चंडीगढ़ में राजीव शुक्ला के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं। राजीव शुक्ला ने कहा कि केंद्र सरकार को लग रहा था 4-5 लाख करोड़ रुपए बैंक में आएंगे, लेकिन नोटबंदी के बाद 15 लाख करोड़ रुपए बैंक में आ गए। कालेधन को लेकर उन्होंने कहा कि कहा कालाधन पकड़ा नहीं गया, बल्कि नोटबंदी से कालाधन सफेद हो गया है। 2000 के नोट से और अधिक जमाखोरी बढ़ेगी।

चंडीगढ़ सेक्टर-17 की आरबीआई शाखा के बाहर भी कांग्रेस नेता लामबंद हुए और विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस ने कांग्रेस नेताओं पर पानी की बौछारें छोड़ीं। प्रदर्शन में कांग्रेस राज्यसभा सांसद राजीव शुक्ला के साथ अशोक तंवर, पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल, गीता भुक्कल और कई कांग्रेसी नेता मौजूद रहे। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की।

गुजरात के अहमदाबाद में पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे, शंकरसिंह वाघेला और भरत सिंह सोलंकी को पुलिस ने प्रदर्शन के दौरान अपनी हिरासत में ले लिया है। अहमदाबाद में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे के नेतृत्व में प्रदर्शन किया। शिंदे ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पंगु हो गई है, हजारों लोगों की नौकरी चली गई है और दिन-ब-दिन लोगों का काम- धंधा चौपट हो रहा है।

मुबंई में कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला के नेतृत्व में प्रदर्शन किया। सुरजेवाला ने कहा, 'मोदी सरकार और आरबीआई द्वारा एटीएम से रुपये निकालने पर लगा 24,000 रुपये प्रति सप्ताह का प्रतिबंध न हटाने का फैसला देशवासियों के साथ बेईमानी है।'