News

दिल्ली में कांग्रेस की भारत बचाओ रैली आज, सोनिया, राहुल, मनमोहन, प्रियंका समेत शीर्ष नेता होंगे शामिल

कांग्रेस पार्टी (congress) आज मोदी सरकाक के खिलाफ हल्ला बोलेगी। आर्थिक मंदी, किसान विरोधी नीतियों, महिला हिंसा, बेरोजगारी और संविधान पर हमले को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ आज दिल्ली के रामलीला मैदान (ramlila maidan) में एक बड़ी रैली करने जा रही है। इस रैली का नाम भारत बचाओ रैली (bharat bachao rally) दिया गया है।

bharat bachao rally

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (14 दिसंबर): कांग्रेस पार्टी (congress) आज मोदी सरकाक के खिलाफ हल्ला बोलेगी। आर्थिक मंदी, किसान विरोधी नीतियों, महिला हिंसा, बेरोजगारी और संविधान पर हमले को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ आज दिल्ली के रामलीला मैदान (ramlila maidan) में एक बड़ी रैली करने जा रही है। इस रैली का नाम भारत बचाओ रैली (bharat bachao rally) दिया गया है।

इस रैली में कांग्रेस (congress) की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी (rahul gandhi), कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (priyanka gandhi) और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री और कार्यकर्ता शामिल हो रहे हैं। इस रैली में हिस्सा लेने के लिए देश के कोने-कोने से लाखों कांग्रेस कार्यकर्ता रामलीला मैदान पहुंच रहे हैं। दिल्ली के रामलीला मैदान (ramlila maidan) में इस रैली को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

इस रैली से कांग्रेस पार्टी नागरिता संशोधन कानून (CAB) पर भी मोदी सरकार को घेरेगी। कांग्रेस (congress) लगातार इस बिल का विरोध करती रही है। इस कानून को लेकर कांग्रेस का कहना था कि यह कानून धर्म के आधार पर देश को बांटने की कोशिश है। कांग्रेस पार्टी ने भारत बचाओ रैली में शामिल होने के लिए देशभर से लोगों को रामलीला मैदान पहुंचने को कहा है। कांग्रेस का दावा है कि यह रैली ऐतिहासिक होगी। मोदी सरकार असली मुद्दों से देश की जनता का ध्यान भटकाने में लगी है, लेकिन वो इन तमाम मुद्दों को लेकर देश में जनता के बीच जाएगी।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी के बयान पर लोकसभा में हंगामा, स्मृति ईरानी ने लगाए गंभीर आरोप

कांग्रेस (congress)  की भारत बचाओ रैली (bharat bachao rally) में उत्तर प्रदेश से 40 हजार से अधिक कार्यकर्ता दिल्ली पहुंच रहे हैं। इस रैली में उत्तर प्रदेश की ऐतिहासिक भागीदारी होने जा रही है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस द्वारा हर विधानसभा से लगभग औसतन 200 लोगों को रैली में ले जाने की रणनीति बनाई गई थी। उत्तर प्रदेश के कोने कोने से ट्रेनों, बसों और गाड़ियों के काफिले से कार्यकर्ताओं का हुजूम दिल्ली में दाखिल हो रहा है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में इस रैली को लेकर हर पदाधिकारी की जिम्मेदारी तय थी। रैली को सफल बनाने के लिए मंडल प्रभारी बनाए गए थे। पार्टी के पुराने नेता भी अपने समर्थकों के साथ दिल्ली पहुंच रहे हैं।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top