कांग्रेस लीडर को मिली रेप की धमकी, ब्लॉग में किया खुलासा

नई दिल्ली (22 मई): कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने एक वेबसाइट के लिए लिखे अपने ब्लॉग में खुलासा किया है कि उन्हें ट्विटर पर निर्भया की तरह रेप और मर्डर करने की धमकी मिली है। मुंबई पुलिस ने उस शख्स के खिलाफ मामला भी दर्ज किया है।

चुतर्वेदी के मुताबिक, "राइट विंग के स्पोर्टर्स सोचते हैं कि ऐसी हरकतों से वे मुझे डरा सकते हैं। बीजेपी के एक स्पोक्सपर्सन ने टीवी डिबेट के दौरान मुझे चुप रहने का इशारा किया था। एक वुमन होने के नाते इस प्लैटफॉर्म (सोशल मीडिया) पर एक्टिव होना कोई बुरी बात नहीं हैं। लेकिन अगर आप एक आजाद ख्याल वुमन हैं और अलग आइडियोलॉजी रखती हैं तो यहां बहुत बुरा हो सकता है।' उन्होंने कहा कि अगर कोई सोचता है कि इन हरकतों से मुझे डराया जा सकता है तो वह गलत सोच रहा है। मैं ऐसी धमकियों का जिक्र करके यह बताना चाहती हूं कि इस तरह की बदमाशी तब तक जारी रहेगी। जब तक कि ऐसे लोग कोर्ट से बेल पाते रहेंगे।

कांग्रेस लीडर ने अपने आर्टिकल में लिखा है- जो लोग सोशल मीडिया पर एक्टिव होंगे, उन्हें पता होगा कि ट्रोलिंग और गालियां यहां बातचीत का हिस्सा हैं। ऑनलाइन ऐसा ही एक्सपीरियंस मुझे भी हो चुका है। एक ऐसा ट्विटर यूजर, जो एक पॉलिटिकल पॉर्टी (कांग्रेस) से जुड़ा हो और जिसका मौजूदा सरकार से कोई लिंक न हो, उसके लिए ट्रोलिंग और गालियों का सामना करना रोजाना की बात है। क्योंकि इसके अलावा उसके पास यहां और कोई ऑप्शन नहीं है। उन्होंने कहा कि गाली सुनने वाले को कानून की तरफ से यहां तुरंत कोई राहत नहीं मिल सकती है। आईपीसी के सेक्शंस ऐसे हैं जिनसे दोषी को बेल मिल जाती है। दूसरी चुनौती इस प्लैटफॉर्म के नॉन-एग्जिस्टेंट सपोर्ट स्ट्रक्चर का है। ज्यादातर टूल्स यही कहते हैं कि वे कंटेंट को फिल्टर करके लेते हैं। लेकिन किसी अकाउंट को सस्पेंड करना या डिएक्टिवेट करना लगभग असंभव है।