नोटबंदी ने किसानों को किया बर्बाद: कांग्रेस

नई दिल्ली (12 जून): देश के अलग अलग राज्यों में चल रहे किसान आंदोलनों पर कांग्रेस पार्टी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है और किसानों की अनदेखी का आरोप लगाया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी ने सोमवार को कहा कि सरकार ने किसानों पर पड़े नोटबंदी के बुरे असर का अंदाजा नहीं लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसान और खरीददार के बीच की चेन तोड़ दी।

सीपी जोशी ने कहा कि आज देश में कृषि भयंकर संकट में है, भाजपा सरकार में ऐसा लगता है कृषि क्षेत्र आईसीयू में है। उन्होंने कहा कि ये दुर्भाग्य है कि मोदी सरकार की कथनी और करनी में अंतर है।

काग्रेस नेता ने कहा कि आने वाले समय में इसका और भयंकर असर होगा, किसानों को उनकी उपज का सही दाम नहीं मिलेगा।

बंपर फसल के बावजूद सरकार की गलत नीतियों के कारण किसानों को फायदा नहीं हुआ।

सरकार की नीतियां सिर्फ कहने को सबका साथ सबका विकास है।

भाजपा सरकार से मांग है कि लागत से ऊपर 50 फीसदी का मुनाफा देने के वादे को मोदी सरकार पूरा करे।

क्या कारण है कि आयात ड्यूटी को 25 फीसदी से 0 फीसदी कर दिया?

दाल की बंपर फसल के बावजूद विदेशों से दाल आयात क्यों की?

यूपीए सरकार के समय कृषि उत्पादों का निर्यात होता था जो भाजपा सरकार आने के बाद से बंपर फसल के बावजूद कम हो गया।

किसान आत्महत्याओं पर, कृषि संकट पर प्रधानमंत्री जी चुप क्यों हैं?

ध्यान भटकाने के प्रयासों में कामयाब नहीं होने देंगे और सरकार को किये गये वादे पूरे करने पर मजबूर करेंगे।