सीएम विजय रुपाणी के खिलाफ चुनाव लड़ रहा कांग्रेस प्रत्याशी गिरफ्तार

नई दिल्ली ( 3 दिसंबर ): गुजरात के राजकोट में पोस्टर लगाने को लेकर कांग्रेस और भाजपा कार्यतकर्ता आमने सामने आ गए। कांग्रेस का आरोप है कि इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस उम्मीदवार के भाई की पिटाई की। जिसके बाद कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के घर का घेरवा किया। इस मामले में गुजरात पुलिस ने कांग्रेस उम्मीदवार समेत कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के खिलाफ राजकोट (पश्चिम) विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस उम्मीदवार इंद्रनील राजगुरु को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इंद्रनील की गिरफ्तारी शनिवार को उस वक्त हुई जब चुनाव प्रचार के दौरान उनके भाई दीपू राजगुरु पर कुछ लोगों ने हमला किया। इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ता पुलिस से भिड़ गए और जमकर हंगामा हुआ। उसी दौरान पुलिस ने इंद्रनील को गिरफ्तार कर लिया। 

कांग्रेस का आरोप है कि इंद्रनील के भाई दिव्यनील राजगुरु की पिटाई के पीछे बीजेपी का हाथ है और बीजेपी के किसी नेता के इशारे पर ही इस वारदात को अंजाम दिया गया। 

राजगुरु के समर्थकों का काफिला पुलिस स्टेशन पहुंचा और कांग्रेस कार्यकर्ता आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करने लगे। इसी दौरान पुलिस से विधायक की बकझक हो गई और पुलिस ने विधायक व उनके कुछ समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया। 

खबरों के मुताबिक पुलिस ने राजकोट (पूर्व) विधानसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार मितुल डोंगा को भी गिरफ्तार कर लिया। इससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं का गुस्सा बढ़ गया और पुलिस से उनकी झड़प हो गई। बाद में हमले में जख्मी दीपू राजगुरु को अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने कहा, 'पुलिस की यह कार्रवाई साबित करती है कि बीजेपी सरकार कैसे काम कर रही है। यदि राजनेताओं के साथ ऐसा होता है तो फिर आम लोगों के खिलाफ पुलिस क्या करती होगी, सोचने की बात है। बीजेपी गंदी राजनीति की निम्न स्तर पर पहुंच गई है।'