जीएसटी की मूल भावना से भटकी मोदी सरकार !

नई दिल्ली (07 जुलाई): पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदम्बरम ने कहा है कि मोदी सरकार का जीएसटी निम्न दर्जे का जीएसटी है। जिस तरह से मोदी सरकार जीएसटी लेकर आई है, वह जीएसटी न रह कर अपने आप में मजाक बन गया है। पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने संकेत दिया कि कांग्रेस जहां एक ओर जीएसटी का पूरी प्रक्रिया पर नजर रखेगी, वहीं दूसरी ओर वह सरकार पर ऊंची टैक्स दरों को कम करने का दबाव बनाएगी।


चिदंबरम कहना था कि जीएसटी का मूल आधार था- एक देश एक टैक्स, लेकिन मौजूदा जीएसटी उस लक्ष्य को पाने में नाकाम रहा है। जिस तरह से टैक्स की सात दरें 0.25, 3, 5, 12, 18, 28 व 40 रखी गई हैं, उससे यह जीएसटी के नाम पर मजाक बन कर रह गया है। कांग्रेस ने नेता ने जीएसटी पर तंज कसते हुए कहा कि जब आप जीएसटी की मूल भाव से ही भटक गए तो आपको इसका नाम जीएसटी के बजाय कुछ और मसलन इंडियन टैक्स सिस्टम या इंडियन इनडायरेक्ट टैक्स सिस्टम कर देना चाहिए था।