20 विधायकों की सदस्यता रद्द होने पर कांग्रेस का 'आप' पर हमला

नई दिल्ली(21 जनवरी): राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश को मंजूरी दे दी। इस फैसले के बाद कांग्रेस ने आप पर हमला बोला है। 

- दिल्ली प्रभारी अजय माकन ने कहा कि दिल्ली सरकार ने नियमों को दरकिनार करते हुए 7 की जगह 21 मंत्री बना दिए। 

- माकन ने कहा कि संविधान के मुताबिक सिर्फ सात मंत्री हो सकते हैं। 21 विधायकों को मंत्री के बराबर सुविधाएं मुहैया कराईं। ये भ्रष्टाचार का उदाहरण है। 

- बता दें कि आप की दिल्ली सरकार ने मार्च 2015 में 21 विधायकों को संसदीय सचिव के पद पर नियुक्त किया जिसको लेकर प्रशांत पटेल नाम के वकील ने लाभ का पद बताकर राष्ट्रपति के पास शिकायत करते हुए इन विधायकों की सदस्यता खत्म करने की मांग की थी। हालांकि विधायक जनरैल सिंह के पिछले साल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद इस मामले में फंसे विधायकों की संख्या 20 हो गई थी।