राजस्थान में एमए के प्रश्नपत्र में कहा गया भाजपा की विचारधारा पर लिखो निबंध, कांग्रेस ने जताया विरोध

नई दिल्ली (3 जून): राजस्थान के एक विश्वविद्यालय के एमए की परीक्षा में भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा और कार्यक्रम के विषय में एक निबंध लिखने के सवाल पर कांग्रेस ने विरोध जताया है। यह प्रश्न शुक्रवार को एमए अंतिम वर्ष के प्रश्न पत्र में पूछा गया था। समकालीन राजस्थान (1956-2010) विषय के पेपर में प्रश्न संख्या 16 पर दो छात्रों ने भी अपत्ती दर्ज करायी है। पेपर निरीक्षक डॉ गोपाल शरण गुप्ता ने कहा, दो छात्रों ने इस प्रश्न का विरोध किया। एक छात्र दीपक डिंडोरिया ने कहा, किसी खास राजनैतिक मकसद को ध्यान में रखकर पेपर तैयार किया है और पेपर एक खास विचारधारा पर आधारित था।

हालांकि गुप्ता ने दावा किया कि मौजूदा राजनैतिक पार्टी कोर्स का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा, छात्रों से कहा कि अगर उन्हें कोई शिकायत है तो वें अपना विरोध दर्ज करा सकते हैं।  सिलेबर्स की पहली इकाई से 20 नंबर के लिए दो प्रश्न पूछे गए थे। दोनों में से एक प्रश्न करना अनिवार्य था। यह प्रश्न उन्हीं दो प्रश्नों में से एक था।  कांग्रेस प्रवक्ता अर्चना शर्मा ने इस मुद्दे पर कहा, ” भाजपा सरकार अपनी विचारधारा छात्रों पर थोपने की कोशिश कर रही है। वो पहले ही अपने अनुसार सिलेबर्स में बदलाव कर चुके हैं। अब यह प्रश्न पत्र इस बात की पुष्टि कर रहा है कि वें छात्रों का ब्रेन वॉश करना चाहते हैं। विश्विद्यालय के वाइस चांसलर जे पी सिंघल ने कहा कि लेकिन अगर छात्रों के कोई आपत्ति है तो वे शिकायत दर्ज करा सकते हैं।