पहलवान सुशील कुमार ने रचा इतिहास, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ गेम्स में जीता गोल्ड

नई दिल्ली ( 12 अप्रैल ):  भारत के दिग्गज पहलवान सुशील कुमार ने केवल एक मिनट के भीतर ही अपने प्रतिद्वंद्वी रूस के जोहानेस बोथा को चित करते हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में अपने स्वर्ण पदकों की हैट्रिक के साथ ही भारत की झोली में 14वां स्वर्ण पदक डाला। 

सुशील कुमार ने गोल्ड कोस्ट में स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड की हैट्रिक भी लगाई है। इससे पहले उन्होंने 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 74 किग्रा फ्रीस्टाइल में गोल्ड जीता था। वहीं, 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में भी उन्होंने 66 किग्रा फ्रीस्टाइल में गोल्ड जीता था।

2008 बीजिंग ओलंपिक और 2012 लंदन ओलंपिक में क्रमश: ब्रॉन्ज और सिल्वर मेडल जीतने वाले सुशील कुमार ने 2010 में दिल्ली में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में 66 किलोग्राम फ्रीस्टाइल में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था। जबकि पिछले यानि ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में भी उन्होंने गोल्ड मेडल अपने नाम किया था, लेकिन तब उन्होंने 74 किलोग्राम फ्रीस्टाइल भार वर्ग में भाग लिया था। इस जीत के साथ ही उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स अपने पदकों की हैट्रिक पूरी की।