अब 'इस काम' के लिए होटलों में जा सकते हैं आम आदमी भी

नई दिल्ली (16 मार्च): दक्षिणी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र के होटल और रेस्टोरेंट के टॉयलेट का इस्तेमाल आम लोग भी कर सकेंगे। दक्षिणी निगम ने अपने क्षेत्र के सभी होटलों व रेस्टोरेंटों के लिए अनिवार्य कर दिया है कि वे अपने टॉयलेट तक आम लोगों को पहुंच प्रदान करें।

हाल ही में उप राज्यपाल ने निगम को सलाह दी थी कि वे रेस्टोरेंट व होटलों तक आम जनता की पहुंच की संभावना का पता लगाएं। इस पर काम करते हुए निगम ने हेल्थ ट्रेड लाइसेंस धारक होटलों, रेस्टोरेंटों के लिए टॉयलेट के इस्तेमाल की सुविधा को अनिवार्य कर दिया है।

इसके लिए वे साफ-सफाई के खर्च के तौर पर पांच रुपये तक का शुल्क ले सकेंगे। एक अप्रैल से निगम का यह निर्णय लागू हो जाएगा। निगम को अनुमान है कि इस निर्णय के लागू होने से लोगों को इस्तेमाल के लिए 3500 से ज्यादा टॉयलेट उपलब्ध हो सकेंगे।