होली विशेषः उज्जैन के महाकाल मंदिर से शिप्रा तट बिखरे रंग

नई दिल्ली (13 मार्च): उज्जैन के महाकाल मंदिर में फाल्गुन पूर्णिमा पर को होलिका पूजन के साथ रंगपर्व का आगाज हुआ। ज्योतिर्लिंग महाकाल में संध्या आरती के बाद होलिका दहन हुआ। इसके बाद पुजारी-पुरोहितों ने फाग के गीतों पर फूलों से होली खेली। परंपरा के चटख रंग राजा के आगंन से शिप्रा तट तक नजर आए। मोक्षदायिनी शिप्रा के रामघाट पर तीर्थ पुरोहितों ने शिप्रा का गुलाल पूजन किया। महाकाल पुजारी-पुरोहित परिवार ने महाकाल मंदिर प्रबंध समिति के साथ मिलकर फाग महोत्सव का आयोजन किया। पुजारी-पुरोहित और भक्तों ने मिलकर फूलों से जमकर होली खेली। शहर में 150 से अधिक स्थानों पर होलिका का पूजन हुआ। प्रदोष काल में महिलाओं ने सुख-सौभाग्य तथा समृद्धि के लिए होलिका का पूजन किया। आज तड़के 4 बजे के बाद शहर में की स्थानों पर होलिका दहन के साथ ही रंगपर्व शुरु हो गया।