जींस और लैगिंज पहनी तो होंगे कॉलेज से बाहर...

अमिताभ ओझा, पटना (13 अगस्त): बिहार के मगध महिला कॉलेज प्रशासन ने छात्राओं के लिए ड्रेस कोड निर्धारित कर दिया है। अब छात्राओं को कॉलेज में जींस, लैगिंज और शॉर्ट ड्रेस पहनकर आने पर प्रतिबंध लगा दिया है। कॉलेज प्रशासन ने कॉलेज में ड्रेस कोड भी लागू कर दिया है।

छात्राओं को नोटिस बोर्ड के माध्यम से सूचना दी गई कि 16 अगस्त से छात्रओं को सलवार-कुर्ता, दुपट्टा एवं ब्लेजर में आनाहोगा। यह कॉलेज का ड्रेस कोड भी है। अगर कोई छात्र इसका उल्लंघन करती है तो उस पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। जुर्माना नहीं देने पर महाविद्यालय से नाम काट दिया जाएगा। यह नियम स्नातक, स्नातकोत्तर, रेगुलर, व्यावसायिक और स्ववित्त पोषित कोर्स की सभी छात्रओं पर लागू होगा। बिना कॉलेज ब्लेजर के आने वाली छात्राओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

प्राचार्या प्रो. आशा सिंह ने कहा कि कॉलेज में अनुशासन जरूरी है। इसलिए ड्रेस कोड लागू कर दिया है। कई छात्राएं कुछ भी पहनकर कॉलेज आ जाती हैं। इस कारण यह फैसला लिया गया है। हालांकि यह पहला मौका नहीं है, जब कॉलेज ने यह फैसला लिया गया है। पहले भी इस तरह के नियम बनाए गए पर इसका पालन कुछ दिनों तक होता है। इसके बाद भी कॉलेज के ड्रेस कोड को सख्ती से लागू करने का फैसला लिया गया।

शुक्रवार को दो छात्राएं शार्ट्स पहनकर कॉलेज आई थी। इनमें से एक छात्रा को कॉलेज की शिक्षिका ने पकड़ लिया। उसे प्राचार्या के पास ले जाया गया। प्राचार्या द्वारा छात्रा का आईकार्ड जब्त करने के साथ ही उसके अभिभावकों को बुलाया गया था। कॉलेज के शिक्षकों की मानें तो नए सत्र में दाखिला लेने वाली छात्राएं अजीब ड्रेस पहनकर कॉलेज आ रहीं थी। हाल की गतिविधियों को देखकर यह फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि छात्राओं की मनमर्जी पर रोक लगाने के लिए और कॉलेज में अनुशासन का पालन करने के लिए यह फैसला लिया गया है।