#Pathankot: शहीद निरंजन का पार्थिव शरीर पहुंचा बैंगलोर, श्रद्धांजलि देने पहुंचे हजारों लोग

बेंगलुरू (4 जनवरी): पठानकोट हमले में शहीद हुए जवानों को पूरा देश सलाम कर रहा है। आज हमले में शहीद अंबाला के गरनाला गांव के गुरसेवक और बेंगलुरू में लेफ्टिनेंट कर्नल निरंजन कुमार का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा।

बेंगलुरु में लेफ्टिनेंट कर्नल निरंजन के दर्शन के लिए भी भारी भीड़ उमड़ी। पठानकोट एयरबेस में बम डिफ्यूज करते वक्त शहीद हुए निरंजन कुमार को अंतिम विदाई दी गई। निरंजन कुमार का शव जैसे ही बैंगलूरू पहुंचा पूरा शहर अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़ा।

क्या सड़क...क्या घरों की छत...हर कोई बस निरंजन कुमार को आखिरी बार देखना चाहता था। निरंजन ई कुमार का परिवार गमगीन है लेकिन उन्हें उनकी शहादत पर फख्र है। 

शहीद निरंजन को पूरे राजकीय सम्मान के साथ ले जाया गया। पूरा इलाका गमगीन था वहीं कुछ लोग पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी भी करते दिखे।

कैसे हुए शहीद पठानकोट एयरफोर्स बेस पर आतंकियों का बम डिफ्यूज करते हुए निरंजन कुमार बुरी तरह से जख्मी हुए थे। निरंजन कुमार को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। निरंजन कुमार अपने पीछे 2 साल की बेटी विस्मय, पत्नी राधिका, पिता और बहन को छोड़कर गए हैं। निरंजन की इस बहादुरी को पूरे देश का सलाम।