सांप ने लिया पत्थर मारने का बदला, दो भाइयों को डसा

नई दिल्ली (4 अक्टूबर): जयपुर के हलैना के पास  गांव नैवाड़ा में रात को अपने घर में सो रहे दो नाबालिग भाइयों को एक सांप ने डस लिया। दोनों की मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि दोनों भाइयों ने दिन में एक सांप के जोड़े को सताया था, शायद उन्हीं में एक ने आकर इन्हें डसा है। परिजन इस बात से भी हैरान हैं कि दोनों भाई अपनी दो बहनों के साथ जमीं पर सो रहे थे, लेकिन सांप ने उन्हें कुछ नहीं किया। इस अंधविश्वास के बीच परिजनों ने कमरे में ही छिपे मिले सांप को मार डाला। 

- परिजनों के अनुसार दिलीप जाटव का 16 वर्षीय बेटा बलराम व 14 वर्षीय बेटा सचिन दोपहर बाद घर के पास खेत में गए हुए थे।

- वहां उन्हें काले सांप का एक जोड़ा दिखाई दिया। दोनों भाई उन पर पत्थर फेंकने लगे। इस बीच गांव के ही एक बच्चे ने उनसे ऐसा नहीं करने को भी कहा, लेकिन दोनों नहीं माने।

- वे दोनों सांपों को सताते रहे। इस बीच, दोनों सांप छिप गए। इसके बाद बलराम और सचिन घर आ गए।

- रात को वे एक कमरे में अपनी बहनों के साथ जमीं पर सो रहे थे। तभी एक सांप ने उन्हें डस लिया।

- इस दौरान शोर मचाने पर परिजन और अन्य ग्रामीण आ गए। उन्होंने इधर-उधर देखा तो काले रंग का एक सांप कमरे में दिखाई दिया।

- परिजन पहले तो दोनों भाइयों को देसी इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र लाए, जहां दोनों भाइयों ने दम तोड़ दिया।

- डाक्टरों के अनुसार दोनों बच्चों के शरीर में जगह फैल चुका था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को शव सौंप दिया