कोयला घोटाला: CBI ने अपने ही पूर्व निदेशक के खिलाफ दर्ज की FIR

नई दिल्ली (25 अप्रैल): देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी CBI के पूर्व प्रमुख रंजीत सिन्हा की मुश्किलें बढ़ गई है। कोल घोटाला मामले में आरोपी CBI के पूर्व प्रमुख रंजीत सिन्हा के खिलाफ उन्हीं के विभाग ने FIR दर्ज की है। रंजीत सिन्हा पर कोल घोटाले की जांच को प्रभावित करने की कोशिश करने का आरोप है।

 

CBI के इतिहास में ऐसा दूसरी बार है जब पूर्व निदेशक पर आपराधिक मामला दर्ज हुआ और उन्ही का विभाग उनके खिलाफ जांच कर रहा हो। इस साल फरवरी में CBI ने पूर्व निदेशक ए पी सिंह के खिलाफ भी FIR दर्ज की थी। उनपर आरोप था कि उन्होंने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मीट कारोबारी मोईन कुरैशी का पक्ष लिया।

 

गौरतलब है कि पू्र्व CBI प्रमुख के भूमिका की जांच का निर्णय CBI ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने तीन महीने पहले CBI को निर्देश दिया था कि वो 1974 बैच के आईपीएस अधिकारी रंजीत सिन्हा के खिलाफ जांच करे। जस्टिस मदन बी लोकुर की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की तीन सदस्यीय बैंच ने जनवरी में कहा था कि शुरूआती जांच के बाद वो इस तर्क से रहमत हैं कि रंजीत सिन्हा ने CBI प्रमुख के तौर पर अपने पद का गलत इस्तेमाल किया।