सरकार की खुली पोल, फरार नहीं थे प्रिंसिपल, सरकार के आदेश पर गए थे देहरादून


नई दिल्ली (13 अगस्त): गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (बीआरडी) में 2 दिनों के अंदर ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई 30 से ज्यादा बच्चों की मौत से पूरे देश में हंगामा मचा है। आरोप-प्रत्यारोप और लीपा-पोती हो रही है। बच्चों की मौत के मामले में लापरवाही बरतने के कारण कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा को निलंबित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी।

शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने आशुतोष टंडन ने कहा था कि हमले लापरवाही बरतने के आरोप में प्रिंसिपल राजीव मिश्रा को निलंबित कर दिया है। कहा जा रहा था प्रिंसिपल राजीव मिश्रा कहीं फरारा हो गए हैं। 

लेकिन इस मामले में बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल का दावा है कि उन्हें हरिद्वार एम्स के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए कहा गया था और वो फरार नहीं थे। जबकि कल यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा थि कि कॉलेज के प्रिंसिपल बिना बताए चले गए थे।