उत्तराखंड: सीएम त्रिवेंद्र रावत ने मंत्रियों को बांटे पोर्टफोलियो, जानें किसे मिला कौन सा विभाग

नई दिल्ली ( 24 मार्च ): उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पांच दिन की मशक्कत के बाद गुरुवार को अपनी सरकार के मंत्रियों के विभागों का बंटवारा किया। उन्होंने पीडब्ल्यूडी, स्वास्थ्य और ऊर्जा समेत 40 विभाग अपने पास रखे।


मुख्यमंत्री ने अपने पास गृह, गोपन, कार्मिक,सतर्कता, विधि एवं न्याय, सचिवालय प्रशासन, सामान्य प्रशासन, सुराज एवं भ्रष्टाचार उन्मूलन एवं जनसेवा, लोक शिकायत, राज्य संपत्ति, लोनिवि, ग्राम्य विकास, सूचना, ग्रामीण निर्माण विभाग, ग्रामीण सड़क एवं ड्रैनेज, नागरिक उड्डयन, ऊर्जा, वैकल्पिक ऊर्जा, चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, आपदा प्रबंधन, राजस्व एवं भूप्रबंधन, सैनिक कल्याण, अर्द्धसैनिक कल्याण, तकनीकि शिक्षा, नियोजन, बाह्य सहायतित परियोजनाएं, कारागार, नागरिक सुरक्षा एवं होमगार्ड, पर्वतीय ग्रामों चकबंदी, औद्यागिक विकास, लघु मध्यम एवं सूक्ष्म उद्योग, खादी ग्रामोद्योग, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, खाद्य प्रसस्कंरण, सूचना प्रौद्योगिकी, विज्ञान एवं प्रौद्यागिकी, जैव प्रौद्योगिकी विभाग रखें हैं।


किस नेता को मिला कौन सा विभाग

-सतपाल महाराज को सिंचाई और पर्यटन विभाग समेत नौ विभागों की जिम्मेदारी मिली।


-प्रकाश पंत को संसदीय कार्य और वित्त समेत 10 विभागों का कार्यभार मिला है।


-यशपाल आर्य को परिवहन, समाज कल्याण और अल्पसंख्यक समेत 8 विभाग मिले हैं।


-मदन कौशिक के पास शहरी विकास विभाग समेत 6 विभाग दिए गए हैं।


अरविंद पाण्डेय के पास विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, खेल, संस्कृत शिक्षा, युवा कल्याण समेत छह विभागों की जिम्मेदारी रहेगी।


धनसिंह रावत को सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विभाग और प्रोटोकॉल सौंपा गया है।


हरक सिंह रावत को वन एवं वन्य जीव समेत 7 विभागों की जिम्मेदारी मिली है।


 रेखा आर्या को महिला कल्याण एवं बाल विकास समेत छह विभाग सौंपे गए।