CM नीतीश कुमार ने खोज निकाली 3000 हजार साल पुरानी अवशेष, जांच जारी

पटना (1 जनवरी): बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न सिर्फ राजनीति के महिर खिलाड़ी हैं बल्कि उनकी नजर और परख भी काफा अच्छी है। इसका उदाहरण पिछले दिनों उस वक्त देखने को मिला जब वो राज्य के शेखपुरा जिला के दौरे पर थे। इस दौरे के दौरान उनकी नजर एक तहस नहस हो चुके स्तूप पर पड़ा। नीतीश कुमार ने वक्त गवाएं बिना वहीं से अपने मुख्य सचिव को फोन किया और इस स्तूफ की जांच के निर्देश दिए। 

मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुए इस जांच के दौरान उस स्तूप से 1,000 ईसा पूर्व यानी करीब 3,000 साल पुराने अवशेष मिले हैं। इन अवशेषों में मिट्टी के पात्र या बर्तन हैं, जिनके पुरातात्विक महत्व हैं।

के पी जायसवाल अनुसंधान संस्थान के कार्यकारी निदेशक बिजॉय कुमार चौधरी के मुताबिक काले और लाल रंग में वस्तुओं के अवशेष करीब 1,000 ईसा पूर्व के प्रतीत होते हैं। हमें कुछ नक्काशीदार कलाकृति वाली लाल रंग की वस्तुएं भी मिलीं जो संभवत: नवपाषाण काल की हो सकती हैं। पटना से महज 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित इस स्तूप से भगवान बुद्ध, भगवान विष्णु और कुछ देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां भी मिली है।