सिस्को भी करेगी छंटनी, 14 हजार जॉब्स पर खतरा...

नई दिल्ली (16 अगस्त): नेटवर्क इक्विपमेंट्स बनाने वाली दुनिया की बड़ी कंपनियों में शुमार सिस्को सिस्टम्स जल्द ही 14 हजार वर्कर्स की छंटनी कर सकती है। यह कंपनी के ग्लोबल वर्कफोर्स का करीब 20 फीसदी है।

क्या है वजह... मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कैलिफोर्निया के सैन जोस की कंपनी सिस्को अगले कुछ हफ्तों में ही इस छंटनी का एलान कर सकती है। इसकी वजह कंपनी का खुद को हार्डवेयर से सॉफ्टवेयर सेंट्रिक ऑर्गनाइजेशन में तब्दील करना है।

- 30 अप्रैल तक कंपनी में 70 हजार से ज्यादा वर्कर्स थे। हालांकि, सिस्को ने छंटनी की रिपोर्ट पर अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया है। - रिपोर्ट के मुताबिक, सिस्को को सॉफ्टवेयर डिफाइंड फ्यूचर के लिए अलग स्किल वाले सेट्स की ज्यादा जरूरत है, क्योंकि कंपनी लगातार अपना मार्केट शेयर और मार्जिन बढ़ाने की स्ट्रैटजी पर काम कर रही है। - सिस्को लगातार अपने डाटा सेंटर्स के लिए डाटा एनालिटिक्स सॉफ्टवेयर और क्लाउड बेस्ड टूल्स जैसे नए प्रोडक्ट्स में इन्वेस्ट कर रही है। - रिपोर्ट के मुताबिक, सिस्को पहले ही वर्कर्स को जल्दी रिटायरमेंट के पैकेज की पेशकश कर चुकी है।