संकटमोचन संगीत समारोह: गजल गायिका चित्रा सिंह 26 साल बाद गाएंगी

नई दिल्ली ( 15 अप्रैल ): गजल सम्राट जगजीत सिंह की पत्नी और गजल गायिका चित्रा सिंह शुक्रवार की शाम पहली बार अपने पोते अरमान के साथ वाराणसी पहुंची। साल 1990 में अपने बेटे विवेक की मौत के बाद उन्होंने गाना छोड़ दिया था। हालांकि, बेटे के मौत के 26 साल बाद शनिवार को वाराणसी के संकट मोचन मंदिर में आयोजित संगीत समारोह में भाग लेंगी और फिर से सुरों के साज छेड़ेंगी।


संकट मोचन मंदिर के महंत विशंभरनाथ मिश्रा ने बताया कि यहां संगीत समारोह में भाग लेने चित्रा सिंह पहली बार आई हैं। पीएम मोदी के कार्यक्रम के आने सवाल पर चित्रा सिंह ने कहा, बनारस में मैं पहली बार आई हूं। पति जगजीत सिंह से पीएम मोदी के अच्छे संबंध थे। वो उनके गीतों को काफी पसंद करते हैं। मेरे जीवन का सबसे बड़ा मंच शनिवार को मिलेगा। जगजीत सिंह की भी यहां परफॉर्म करने की इच्छा थी। उसी को पूरा करने यहां आई हूं।